Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!

Nagpur City No 1 eNewspaper : Nagpur Today

| | Contact: 8407908145 |
Published On : Mon, Dec 2nd, 2019

नागपुर में फिर लौटा फर्जी स्कीम

– अब स्ट्राबेरी फार्म के नाम ग्राहकों को रिझाया जा रहा

नागपुर – जिले में जमापूंजी हड़पने का व्यवसाय पूर्ण शबाब पर हैं.कभी कोई वीसी तो कोई अल्प नगदी के एवज में बड़े-बड़े स्थाई-अस्थाई आकर्षक सामग्री देने या फिर नगदी के बदले अनसोची नगदी देने हेतु सक्रिय रहे.पर्दाफाश होने पर कुछ फरार तो कुछ कैद में हवा खा रहे.अब पुनः स्ट्राबेरी फार्म के नाम ग्राहकों को रिझाने का प्रयास ग्राहक वर्ग समेत प्रशासन सह पुलिस विभाग के लिए सरदर्द बनता दिख रहा.

नागपुर जिले और उसके आसपास काफी सीधे-सादे नागरिक निवास करते हैं,जीवन सीधा-सादा होने से खर्च भी अल्प ही होती हैं तो दूसरी ओर इन सीधे-सादे नागरिकों के जमापूंजी पर लगभग प्रत्येक वर्ष कोई न कोई वक्रदृष्टि गड़ाए मिल ही जाता हैं.

नागपुर शहर में चुनिंदा लोगों द्वारा हज़ारों की संख्या में वीसी का संचलन हो रहा कोई १५ दिन वाली तो कोई मासिक वीसी का संचलन कर रहा.कोई संचालक तय रकम मासिक वितरित कर रहा,तो कोई बोली पर वीसी का संचालन कर रहा.कोई १०० वाली तो कोई करोड़ों की वीसी का संचलन कर रहा.अर्थात आयकर,पुलिस विभाग के नाक के नीचे सम्पूर्ण शहर में यह अवैध व्यवसाय धड़ल्ले से शुरू हैं.इसमें से कई संचालक माल समेट गायब हो जाते या फिर खुलेआम प्रशासन के शह पर शहर में बेख़ौफ़ दिख रहे.

ब्याज का धंधा भी चरम पर हैं.खासकर यह धंधा सरकारी महकमों में जमकर खुलेआम चल रहा,वह भी मासिक १० से १५ % ब्याज का.इस धंधे में सम्बंधित विभाग के लेखा विभाग और सम्बंधित विभाग से जुडी बैंक के कर्मियों का समावेश उल्लेखनीय हैं.

इसके साथ ही पिछले ५-६ सालों से १० लगाओ और १०० पाओ की नगदी योजना भी नागपुर में काफी धूम मचाई।जोशी,अग्रवाल,वासनकर का मसला आजतक सुलझा नहीं कि अब एक समूह ने पुनः ग्राहकों को आकर्षित करते हुए स्ट्राबेरी योजना शुरू कर उसकी ‘मार्केटिंग’ कर रही.

स्ट्राबेरी फर्म

यह समूह इसी वर्ष शुरू की गई.यह एक फार्महाउस है,जो शहर के ज़ीरो माइल्स से ८ किलोमीटर दुरी पर बताया जा रहा.आसपास जंगल हैं,यहीं स्ट्रॉबेरी के खेत 25 एकड़ में बने हैं। निवेशकों को लुभाते हुए उन्हें जानकारी दी जा रही कि नागपुर में पहली बार एक फार्महाउस है जिसमें आप किराए पर रह सकते हैं या फ़ार्म हाउस खरीदकर हर महीने पैसे कमा सकते हैं। इस फार्महाउस में सभी सुविधाएं उपलब्ध हैं जैसे कि आउटडोर गेम्स, स्पेशल अट्रैक्शन वेजिटेबल जोन, कॉलोनियां, 3+ फार्महाउस, प्लॉट, बिजनेस एंड सर्विसेज कैटेगरीज, हॉल एंड लॉन, वॉटर पार्क, मॉर्डन फैसिलिटीज, स्पेशल कॉलोनी और डिसेबल के लिए सुविधाएं, जॉगिंग पार्क आदि। इसके निवेशकों को निवेश करने पर गोवा का दौरा करवाने का वादा कर रहे हैं.

इस समूह के वेबसाइट में प्रदर्शित छायाचित्र काल्पनिक हैं.निवेशकों को आकर्षित करने के लिए बताया जा रहा कि इस परिसर में डॉक्टर ,अधिवक्ता ,पुलिस ,पॉलिटिशियन ,आर्किटेक्ट व सीए कॉलोनी,फार्मा,बैंकर्स,टीचर्स,सीनियर सिटीजन आदि को कॉलोनियां होंगी।

इस फर्म में निवेश के तीन योजनाएं है.
पहला- १ बीएचके का फार्महाउस -११.५ लाख
दूसरा- २ बीएचके का फार्महाउस – २० लाख
तीसरा- ३ बीएचके का फार्महाउस- २८ लाख

तीनों योजनाओं के साथ ७००० से २७००० रूपए मासिक तय आमदनी भी होने का दावा किया जा रहा.

उल्लेखनीय यह हैं कि उक्त लुभावने योजना में शहर की जनता अपनी गाढ़ी कमाई झोंके और ठगी न जाये,इसलिए जिला प्रशासन ,एनएमआरडीए,रेरा सह पुलिस प्रशासन ने सूक्ष्म जाँच करनी चाहिए ,अन्यथा जोशी,अग्रवाल,वासनकर के मकड़जाल में निवेशक फंस गए तो सब सर धुनते रह जायेंगे।

– राजीव रंजन कुशवाहा ( rajeev.nagpurtoday@gmail.com ) 

Stay Updated : Download Our App
Mo. 8407908145