| | Contact: 8407908145 |
    Published On : Sun, Dec 27th, 2020
    nagpurhindinews | By Nagpur Today Nagpur News

    गोंदिया: जाको राखे साइयां.. मार सके ना कोय ?

    गोंदिया: जाको राखे साइयां.. मार सके ना कोय ? जिसका रखवाला खुद ऊपर वाला हो उसका बाल भी बांका हो नहीं सकता ? कुछ ऐसी ही कहावत शनिवार 26 दिसंबर को गोंदिया रेलवे स्टेशन पर उस वक्त चरितार्थ हो गई जब पुरी से अहमदाबाद की ओर जा रही ट्रेन दोपहर 12:46 बजे गोंदिया स्टेशन के प्लेटफार्म नंबर 3 पर आकर ठहरी इस ट्रेन के कोच S-6 में बर्थ नंबर 41 पर बैठा यात्री जयसन हरीहर भाई यह पीने का पानी लेने के लिए प्लेटफार्म पर उतरा

    इसी दौरान ट्रेन चलने लगी और 60 वर्षीय बुजुर्ग यात्री ने चलती गाड़ी में चढ़ने का प्रयास किया इस दौरान उन्होंने हड़बड़ी में उसने अपना पैर चलती ट्रेन के पायदान (फुट रेस्ट ) पर रखा जिससे उसका पैर फिसल गया और वह असंतुलित होकर प्लेटफार्म के भीतर जा समाया और बीच में फंसकर ट्रेन से घसीटने लगा यह नजारा देख ड्यूटी पर तैनात टास्क टीम के प्रधान आरक्षक राजेंद्र रायकवार ने तत्काल हरकत में आकर बिना समय गवांए सूझबूझ का परिचय देते हुए बुजुर्ग यात्री को जोर से पकड़ कर बाहर की ओर खींच लिया जिससे उसकी जान बच गई , यह सारा घटनाक्रम प्लेटफार्म पर लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गया।

    उक्त यात्री कालीकट से सूरत तक की यात्रा कर रहा था तथा सूरत (गुजरात) का निवासी है सिर और शरीर में चोट लगने पर वह गंभीर जख्मी हुआ है जिससे ट्रेन की चेन पुलिंग कर उसे रोका गया तथा बोगी से इस यात्री का सामान उतार कर कागजी कार्रवाई पूर्ण करने के पश्चात प्रधान आरक्षक दलाई एवं एस. एस ठाकुर की सहायता से शासकीय जिला केटीएस अस्पताल में उपचार हेतु भर्ती कराया गया एवं यात्री के परिजनों को सूचित किया गया ।

    आरपीएफ जवान के सराहनीय कार्य के लिए पीड़ित परिजनों ने उनका धन्यवाद देते हुए आभार व्यक्त किया है ।
    रेलवे सुरक्षा बल ने आम नागरिकों से अपील की है कि वह चलती ट्रेन में चढ़ने व उतरने का प्रयास ना करें , यह खतरनाक हो सकता है ।

    ‌रवि आर्य

    Stay Updated : Download Our App
    Mo. 8407908145