Published On : Wed, Apr 19th, 2017

कड़बी चौक से ऑटोमोटिव्ह चौक तक 4.3 किलोमीटर का बनेगा डबल डेकर ब्रिज


नागपुर:
 मेट्रो रेल परियोजना के तहत नागपुर में एक और डबल डेकर ब्रिज का निर्माण किया जायेगा जिसकी लंबाई अजनी चौक से प्राइड के बीच में बनने वाले ब्रिज से ज्यादा होगी। बुधवार को मॉरेस कॉलेज ग्राउंड में बनाए गए सहायता केंद्र के उद्घाटन के अवसर पर यह जानकारी नागपुर मेट्रो के मैनेजिंग डायरेक्टर ब्रिजेश दीक्षित ने दी। दीक्षित ने बताया की कड़बी चौक से ऑटोमोटिव्ह चौक के बीच मेट्रो डबल डेकर ब्रिज से ही दौड़ेगी इस ब्रिज की लंबाई करीब 4.3 किलोमीटर होगी। वर्धा रोड पर निर्माण होने वाले ब्रिज की लंबाई 3.2 किलोमीटर की है। जबलपुर राष्ट्रीय महामार्ग में बनाया जाने वाला ब्रिज की डिजाइन वर्धा रोड की डिजाइन जैसा ही होगा। नागपुर मेट्रो का मुख्य स्टेशन मुंजे चौक पर बनेगा। जिसका काम भी शुरू हो चुका है। जगह कम होने की वजह से शुरू काम से यातायात बुरी तरह प्रभावित हो रहा है ऐसे में नागरिको की समस्याओं को सुलझाने के लिए सहायता केंद्र का निर्माण किया गया है। मुंजे चौक पर लगभग एक वर्ष तक काम शुरू की रहेगा जिसे देखते हुए मेट्रो ने मॉरेस कॉलेज ग्राउंड में नागरिकों के लिए फ़्री पार्किंग की व्यवस्था की है। मेट्रो के शुरू काम की वजह से यातायात में हो रही शिकायतों के सवाल पर दीक्षित ने कहाँ जनता को सहूलियत मुहैय्या कराने के लिए उनकी यंत्रणा काम कर रही है फिर भी जहाँ आवश्यकता होगी वहाँ ज्यादा कर्मचारियों को लगाया जायेगा। एक रूट पर फ़िलहाल कमसे कम 50 वार्डन काम में लगाए गए है अगर आवश्यकता होती है तो इनकी संख्या बढ़ाई भी जाएगी।

परियोजना में चौथे रुट का काम चुनौतीभरा
ब्रिजेश दीक्षित के मुताबिक मेट्रो परियोजना के तहत रीच 4 के तहत काम करना चुनौती भरा है सीए रोड पर भारी ट्रैफिक और कम जगह से कार्य करना मुश्किल है। फ़िलहाल मिट्टी की जाँच का काम शुरू है और आगामी एक महीने के भीतर काम तेजी से शुरू हो जायेगा। फ़िलहाल ट्रैफिक के डायवर्जन और पार्किंग पर रिसर्च शुरू है। उन्होंने काम शुरू होने से पूर्व जनता से भी सुझाव आमंत्रित किए है।

खापरी के एक माकन का मुआवजा वितरित
खापरी मेट्रो स्टेशन के प्लेटफार्म के बीच में रहे घर को मुआवजा दिए जाने की जानकारी ब्रिजेश दीक्षित दी। उन्होंने बताया की अदालत के माध्यम से चौधरी नामक व्यक्ति को 3 लाख 60 हजार का मुआवजा दिया जा चुका है। बाकि घरों को 21 तारीख़ को मुआवजा वितरित किया जायेगा।

Advertisement


वर्टिकल पिलर का प्रयोग सभी प्रमुख चौराहो पर

मेट्रो द्वारा एयरपोर्ट के सामने निर्मित पिलर पर वर्टिकल पियर की प्रसंशा हो रही है इस पर दीक्षित ने बताया की यह प्रयोग मेट्रो के रूट में आने वाले सभी प्रमुख चौराहों पर किया जायेगा। इसके अलावा रोड डिवायडर,जंक्शन के साथ ही खाली जगह पर पब्लिक आर्ट का इस्तेमाल किया जायेगा इसके लिए विश्वस्तरीय कलाकारों का सहयोग लिया जायेगा। मेट्रो के विभिन्न स्टेशन की डिजाइन आने की प्रक्रिया अब भी जारी है अब तक कुल 30 हजार डिजाइन मेट्रो के पास दुनिया भर से आ चुकी है।

Advertisement
Advertisement

Advertisement

Advertisement
Advertisement
 

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement