Published On : Sat, Aug 22nd, 2020

आयुक्त मुंढे का तबादला हो : गुप्ता

नागपुर: अखिल भारतीय वैश्य एकता परिषद के प्रदेश अध्यक्ष श्री रामकृष्ण गुप्ता ने कहा है कि मनपा आयुक्त तुकाराम मुंढे की नागपुर में जो तानाशाही चल रही है, वह असंवैधानिक है. जनता को खुद अपनी जान की परवाह है, इसीलिए वह स्वयं फूंक-फूंक कर कदम रख रही है.

जनता की इतनी चिंता आयुक्त को नहीं होना चाहिए. अब नागपुर शहर की संपूर्ण जनता और व्यापारी गण आयुक्त की इन नीतियों का विरोध कर रहे हैं, इसीलिए उनका यहां से तबादला होना ही चाहिए. अन्यथा सभी व्यापारियों को मिलकर हाईकोर्ट की शरण लेनी पड़ेगी. नागपुर में कई व्यापारिक संस्थाएं कार्यरत हैं. इन सभी की जिम्मेदारी है कि इस विषय में वे आगे आएं.

अब सभी को एकजुट होकर जनप्रतिनिधियों के साथ आयुक्त तुकाराम मुंढे को यह बताना चाहिए कि यह ऑड-इवन का फार्मूला भी बंद करके शहर, क्षेत्र और देश-प्रदेश की अर्थव्यवस्था को मजबूत करने के लिए अपनी मंजूरी प्रदान करें.

उसी तरह सभी दुकानदारों और व्यापारियों को जो जबरन कोरोना-टेस्ट कराने का आदेश मनपा ने दिया है, उसे भी वापिस लेना चाहिए. क्योंकि जिनको संक्रमण का एहसास होगा, वह खुद ही अपना परीक्षण करवा लेंगे. क्योंकि जान है तो जहान है, ऐसा भी रामकृष्ण गुप्ता ने अपनी प्रेस नोट में कहा है.