Published On : Mon, Apr 5th, 2021

विश्व सिन्धी सेवा समिति द्वारा बच्चों की मातृभाषा में वीडियो प्रतियोगिता आयोजित

Advertisement

5 वर्षीय जीवा आहूजा प्रथम स्थान पर विजयी

नागपुर ,विश्व सिन्धी सेवा समिति नार्थ जोन की अध्यक्ष भूमिका प्रेमानी और उनकी सहयोगी कवियत्री वीना आडवानी जी के तत्वावधान के अंतर्गत बच्चों को अपनी मातृभाषा सिन्धी के लिये प्रेरित करने के लिये अपनी ही मातृभाषा सिन्धी मे ही वीडियो बनाने की प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। महाराष्ट्र अध्यक्ष प्रताप मोटवानी सिंधी बोली को बढ़ावा देने के लिए सभी टीम को गतिविधियो हेतु प्रोत्साहित करते है उसी के मद्देनजर सिंधी बोली को बढ़ावा देने के लिए उत्तर नागपुर महिला टीम की अध्यक्ष श्रीमती भूमिका प्रेमानी ने बताया कि एक वीडियो प्रतियोगिता का सिंधी में आयोजन किया गया जिसमें बच्चों को गीत,कविता,चुटकुले,अभिनय करते हुए अपने विडिओ बनाने थे।

Advertisement
Advertisement

इस प्रतियोगिता मे महाराष्ट्र के साथ साथ दूसरे राज्यों के बच्चों ने भी बढ़ चढकर हिस्सा लिया और एक से बढ़कर एक वीडियो भेजे जिसका निर्णय सिन्धी समाज के बेहतरीन लेखकों द्वारा लिया गया।निर्णायक गणों मे सिन्धी समाज की मशहूर कवियत्री इंदिरा पूनावाला शबनम पूना महाराष्ट्र से,बिलासपुर से बेहतरीन वरिष्ठ कवियत्री कविता मोटवानी जी,गोंदिया से कवि किशन सनमुख दास भावनानी जी, नागपुर से कवियत्री वीना आडवानी जी,विश्व सिन्धी सेवा समिति महाराष्ट्र के अध्यक्ष प्रताप मोटवानी जी और सिन्धी भाषा के शिक्षक घनश्याम दात्रे जी द्वारा लिया गया।


निर्णायक मंडल द्वारा फैसला लेना कठिन था परंतु चयन तो करना ही जिसके अंतर्गत *प्रथम स्थान पाया महाराष्ट्र उलासनगर की 5 वर्षीया जीवा आहूजा*,द्वितीय स्थान पाने वाली नागपुर से जीनल लालवानी, तृतीय स्थान पर दो प्रतिभागी समान अंक पा विजयी रहे उनके नाम हैं मास्टर शिवम गजनाना और प्रित कुकरेजा।इस प्रतियोगिता मे जिन दूसरे बच्चों ने भाग लिया उनके नाम हैं चेष्ठा केवलानी,केया खिलवानी,विधिता वाधवानी, हैप्पी सचदेव,चाहत भागचंदानी, अर्पिता और मन्नत।सभी को बधाई और शुभकामनाएं दी गयी,अध्यक्षा भूमिका प्रेमानी ने कहा कि सभी बच्चों को विश्व सिंधी सेवा संगम का सर्टिफिकेट दिया जाएगा।

Advertisement

Advertisement
Advertisement
 

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement