Published On : Thu, Apr 6th, 2017

कर्जमाफ़ी और विदर्भ राज्य के लिए रेल रोको आंदोलन


वर्धा/नागपुर
: किसानो के लिए कर्जमाफ़ी और विदर्भ राज्य की माँग करते हुए विदर्भ राज्य आंदोलन समिति ने गुरुवार को फिर एक बार प्रदर्शन किया। वर्धा के सेवाग्राम में रेल रोको आंदोलन कर प्रदर्शनकारियों ने अपनी माँग और आवाज़ सरकार तक पहुंचाई। विदर्भ भर से वर्धा के सेवाग्राम में इक्क्ठा हुए विदर्भवादी रेलवे स्टेशन पहुँचे। जहॉ प्लेटफॉर्म के पूर्वी भाग में रेल की पटरी पर बैठ गए। दोपहर साढ़े बारह बजे शुरू हुआ प्रदर्शन करीब एक घंटे चला।

इस दौरान हैदरबाद की तरफ़ से आने वाली तमिलनाडु एक्सप्रेस और दिल्ली मार्ग की तरफ़ से आ रही मालगाड़ी करीब एक घंटा पटरी पर खड़ी रही। इस प्रदर्शन को रोकने के लिए स्थानीय पुलिस और आरपीएफ ने तगड़ा पुलिस बंदोबस्त लगाया था बावजूद इसके प्रदर्शनकारी अपने इरादे में सफल साबित हुए। प्रदर्शन को करीब एक घंटा बीत जाने के बाद सुरक्षा दल के जवानों ने प्रदर्शनकारियों को जबरन पटरी से उठाया।

विदर्भ राज्य आंदोलन समिति के संयोजक राम नेवले के मुताबिक उनका आंदोलन सफल रहा। जिस तादाद में विदर्भ की जनता ने प्रदर्शन में भाग लिए उससे साफ़ होता है की जनता विदर्भ के लिए और किसानो की कर्जमाफ़ी के लिए कितनी आक्रामक है। यह आंदोलन मुंबई के साथ दिल्ली को भी मैसेज देने के लिए किया गया था। अब जनता के आक्रोश हुए सरकार को जनता केहित का फैसला लेना पड़ेगा।