Published On : Mon, Jun 18th, 2018

यूपीएससी में बदलाव को लेकर ‘माय करिअर क्लब और ‘स्वयम’ संस्था’ ने जानी विद्यार्थियों की राय

नागपुर: यूपीएससी की परीक्षा में बदलाव की तैयारी चल रही है. यूपीएससी में बदलाव करने की बात को लेकर विवाद भी चल रहा है. माय करिअर क्लब और ‘स्वयम’ सामाजिक संस्था के अध्यक्ष विशाल मुत्तेमवार ने यूपीएससी में हो रहे बदलाव के मद्देनजर सर्वे किया है.

Advertisement

जिसमें विद्यार्थियों ने अपनी राय दर्ज की है. शनिवार को विशाल मुत्तेमवार की ओर से तिलक पत्रकार भवन में पत्र परिषद् के दौरान मुत्तेमवार ने बताया कि यूपीएससी बदलाव को लेकर पहले विद्यार्थियों की राय जानना जरूरी है. उन्होंने कहा कि विद्यार्थियों की राय जाने बिना यूपीएएसी की परीक्षा में बदलाव करना सही नहीं होगा.

Advertisement

उन्होंने बताया कि परीक्षा में बदलाव और अन्य जानकारी के साथ ‘माय करिअर क्लब’ और ‘स्वयं’ सामाजिक संस्था ने एक सर्वे किया है. परीक्षा की तैयारी करनेवाले विद्यार्थियों से ऑफलाइन और ऑनलाइन राय मांगी गई थी.

Advertisement

इस सर्वे में करीब 2 हजार विद्यार्थियों ने अपनी राय दर्ज की. सर्वे के अनुसार 55 प्रतिशत विद्यार्थी जानते हैं कि यूपीएससी की परीक्षा में सरकार बदलाव की तैयारी कर रही है. जिस अग्रवाल समिति की सिफारिश पर अमल करने की बात की जा रही है. 63 प्रतिशत विद्यार्थियों को अग्रवाल समिति के बारे में ही कोई जानकारी नहीं है.

साथ ही ऑनलाइन यह भी पूछा गया था कि लिखित परीक्षा व इंटरव्यू के बाद कैडर देने के सम्बन्ध में 49 प्रतिशत विद्यार्थियों को सूचना मिली है और यूपीएससी को स्वतंत्र रखने की राय 50 प्रतिशत विद्यार्थियों ने दी है. इस सर्वे में यह भी जानकारी मिली है कि 68. 56 प्रतिशत विद्यार्थियों का कहना है कि लिखित परीक्षा के बाद कैडर मिलना चाहिए. 18.79 प्रतिशत विद्यार्थी चाहते हैं कि ट्रेनिंग के बाद कैडर मिलना चाहिए. 23. 39 प्रतिशत विद्यार्थियों का कहना है कि ट्रेनिंग के बाद कैडर मिलने से गुणवत्ता प्राप्त विद्यार्थी चुने जाएंगे. 16.09 प्रतिशत विद्यार्थियों की राय में यूपीएससी परीक्षा में पारदर्शिता में खतरा जताया है.

Advertisement
Advertisement

Advertisement
Advertisement
 

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement