Published On : Sat, Nov 10th, 2018

असंगठित कामगार कांग्रेस ने मनाई नोटबंदी की दूसरी बरसी

नागपुर : प्रदेश कामगार कांग्रेस अध्यक्ष बदरूज़मा के मार्गदर्शन में शुक्रवार को संविधान चौक पर नाग शहर असंगठित कामगार कांग्रेस की ओर से नोटबंदी के विरोध में धरना-प्रदर्शन किया गया. 2016 में आज ही के दिन मोदी सरकार द्वारा नोटबंदी कर पूरे भरत को एक बड़ी त्रासदी में डाला गया था. नोटबंदी से फ़ायदे की अपेक्षा कई गुणा ज़्यादा नुक़सान हुआ होने का आरोप इस दौरान लगाया गया.

इस दौरान कहा गया कि इसकी विफलता को स्वीकार करते हुए भाजपा ने ज़नता व विशेषकर मज़दूर वर्ग से माफ़ी माँगनी चाहिए क्यूँकि सबसे ज़्यादा परेशानी इसी वर्ग को उठानी पड़ी थी. ये बातें कामगार काँग्रेस के अध्यक्ष युगल विदावत ने धरना-प्रदर्शन में व्यक्त किए.

क़रीब 3 घंटे चले धरना-प्रदर्शन में नोटबंदी के कई दुष्परिणामों पर प्रकाश डाला गया. इस अवसर पर कामगार कांग्रेस के उपाध्यक्ष दुर्गप्रसाद लाहोरी, नीलीमा दुपारे व पश्चिम नागपुर अध्यक्ष गुड्डु नेताम ने भी अपने विचार व्यक्त किए. आभार प्रदर्शन दीपक शिवनकर ने किया. इस कार्यक्रम में तौसिफ शेख़, विमलेश वर्मा, सचिन तिवारी, सौरभ मलाकवदे, शहनवाज़ खान, सोनू सूर्यवंशी, कमल ठाकुर, वसीम खान, मोनू मेंढे व कामगार काँग्रेस के सभी पदाधिकारी उपस्थित थे.