Published On : Thu, Apr 12th, 2018

Video: SSP ऑफिस पहुंचकर बोले बीजेपी विधायक, ‘जब जरूरत हो बुला लीजिएगा’

लखनऊः उन्नाव गैंगरेप और हत्या के मामले में एसआईटी की रिपोर्ट मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को सौंपे जाने के तुरंत बाद सरकार ने आरोपी बीजेपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर पर बड़ी कार्रवाई की है. कुलदीप सेंगर ने बुधवार रात को पुलिस के सामने सरेंडर करने पहुंचे. लेकिन एसएसपी ऑफिस में मौजूद नहीं थे. इसके बाद सेंगर ने वहां मौजूद इस्पेक्टर से कहा कि जब भी मेरी जरूरत हो मुझे बुला लीजिएगा. मैं आ जाऊंगा. कुलदीप सिंह सेंगर रात साढ़े 11 बजे के बाद लखनऊ में एसएसपी ऑफिस पहुंचे थे. ऐसी खबर थी सेंगर वहां सरेंडर करने के लिए पहुंचे है.

एसएसपी ऑफिस पहुंचने से पहले सेंगर ने अपनी पत्नी से मुलाकात की. सेंगर अपनी पत्नी से मिलने के लिए अस्पताल गए थे. उनकी पत्नी अस्पताल में भर्ती है. ऐसा बताया जा रहा है कि इस मामले में उन्नाव के एसपी भी कार्रवाई हो सकती है. आपको बता दें कि इस मामले में अभी तक कुलदीप सेंगर पर एफआईआर दर्ज नहीं की गई है.

नाटकीय रहा रहा पूरा घटनाक्रम

कुलदीप सेंगर ने एसएसपी ऑफिस में मीडिया से बात करते हुए कहा, ‘मैं फरार नहीं हुआ हूं, इसलिए सामने आया हूं. उन्होंने कहा कि मुझसे किसी ने भी सरेंडर करने के लिए नहीं कहा है. मेरे खिलाफ साजिश की गई. अगर मैं दोषी हूं तो मुझे सजा भी मिले. मुझपर लगे सभी आरोप झूठे’ सरेंडर करने से पहले कुलदीप सिंह सेंगर ने मीडिया से कहा कि मैं कहीं नहीं जा रहा था. ना मैं भागा हूं ना ही मुझे भागने की आवश्यकता है. सेंगर ने कहा कि पीड़ित के पिता की मृत्यु का मुझे दुख है. उन्होंने कहा कि जो आरोप लगाए गए मैं वैसा व्यक्ति नहीं हूं. उन्होंने कहा कि पुलिस ने लड़की के माता-पिता ने जब चाही तब रिपोर्ट लिखी. लड़की का एक चाचा है जो मुझसे बात करने के लिए आया. मुझे उसने फोन किया. मीडिया उस फोन का दुष्प्रचार कर रहा है. उन्होंने कहा कि योगी आदित्यनाथ हमारे नेता है. जो उनका आदेश होगा वो हम मानेंगे. मैं न्याय प्रक्रिया का पालन करूंगा.