Published On : Mon, May 3rd, 2021

दवाई विक्रेता समेत दो गिरफ्तार

50 हज़ार में बेचने वाले थे 2 रेमडेसिविर इंजेक्शन

नागपुर. रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाज़ारी करने वालों पर पुलिस कार्रवाई कर रही है. उच्च न्यायालय ने भी इंजेक्शन की कालाबाज़ारी के मामलों को अत्यंत गंभीरता से लेते हुए कठाेर कार्रवाई की मांग की है और जल्द से जल्द चार्जशीट तैयार करने के निर्देश पुलिस विभाग को दिए हैं. लेकिन इसके बावजूद पैसे की लालच के चलते स्वास्थ्य व्यवस्था से जुड़े कुछ लोग सुधरने का नाम नहीं ले रहे हैं. पाचपावली पुलिस ने रेमडेसिविर कालाबाज़ारी के मामले में एक दवाई विक्रेता समेत दो लोगों को गिरफ्तार किया है. उबेद रज़ा इकरामउल हक (31) और अहमद हुसैन जुल्फीकार हुसैन (31) गिरफ्तार आरोपियों के नाम हैं. उबेद का बाबा बुद्धाजीनगर परिसर में अपोलो मेडिकल स्टोर नमक दुकान है.

डीसीपी लोहित मतानी को जानकारी मिली थी कि अपोलो मेडिकल स्टोर में रेमडेसिविर की कालाबाज़ारी हो रही है. उन्होंने पाचपावली पुलिस को कार्रवाई करने के निर्देश दिए. पुलिस ने उबेद को रंगेहाथ पकड़ने की योजना बनाई. ग्राहक बनकर पुलिस टीम के सदस्य मेडिकल स्टोर में गए. 2 रेमडेसिविर इंजेक्शन का आर्डर दिया गया. उबेद ने कहा कि इंजेक्शन मिलना कठिण है और इसके लिए ‘सेटिंग’ करने की आवश्यकता है. 2 इंजेक्शन के लिए 50 हज़ार रुपए लगेंगे. पुलिस कर्मचारियों ने अपनी असली पहचान न बताते हुए हां कह दिया. आरोपी ने उन्हें कुछ देर बाद आने के लिए कहा.

कुछ देर बाद पुलिसकर्मी फिर दुकान में गए. उबेद इंजेक्शन निकालने के लिए पीछे मुड़ा तभी पुलिस अधिकारियों ने उसे गिरफ्तार किया. पूछताछ के दौरान उसने कहा कि अहमद हुसैन से वह इंजेक्शन खरीदता था. पुलिस ने हुसैन को भी गिरफ्तार किया है. हालांकि हुसैन पुलिस के सवालों का ठीक से जवाब नहीं दे रहा है, लेकिन मामले की जाँच कर रही पुलिस टीम को विश्वास है कि जल्द उन्हें इस केस को पूरी तरह सुलझाने में कामयाबी मिलेगी. रविवार को दोनों को न्यायालय में पेश किया गया. न्यायालय ने 5 मई तक आरोपियों को पुलिस हिरासत में रखने का निर्देश दिया है.