Published On : Thu, Sep 18th, 2014

अमरावती : 100 करोड के पुरस्कार का लालच देकर ठगी, दो गिरफ्तार

Shubham Agrawal & Karan Chauragade

आरोपी शुभम अग्रवाल, करण चौरागडे

अमरावती। अमेरिका की ओर से ली जाने वाली ऑनलाइन यूथ बैंड अवार्ड स्पर्धा में पास होने पर 100 करोड. रु. का पुरस्कार मिलने का लालच देकर दो जालसाज युवकों ने एक परिवार से 10 लाख रुपए ठग लिए. यह घटना अमरावती के गाडगे नगर थाना क्षेत्र में उजागर हुई है. पुलिस ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है. गिरफ्तार आरोपियों में मोतीनगर निवासी करण चौरागडे. (20) और कल्याण नगर निवासी शुभम अग्रवाल (20) शामिल है.

बताया जाता है कि, करण शासकीय तंत्रनिकेतन महाविद्यालय में तृतीय वर्ष में पढता है. उसकी पहचान कैम्प रोड स्थित गनेडीवाल लेआउट निवासी विलास ठाकुर से थी. ठाकुर को दो बेटी है. विलास के साथ करन का परिचय था. उसने विलास को अपनी बेटी के लिए ऑनलाइन हिटलर यूथ बैंड स्पर्धा में भाग लेने को कहा और बताया कि यह परीक्षा पास होने पर 500 करोड. रु.के पुरस्कार दिए जाते हैं. भारत के व्यक्ति को 100 करोड. रुपए दिए जाते हैं. करण ने विलास ठाकुर को अपने जाल में फंसाकर उनकी बेटी को उक्त स्पर्धा परीक्षा में बैठने को कहा. ठाकुर दंपति भी इसके खर्च के लिए तैयार हो गए. ठाकुर की बेटी ने पढ़ाई आरंभ कर दी. वह पॉलिटेक्निक की छात्रा थी. परीक्षा के लिए आवश्यक किताबों के लिए पिछले पांच माह से ठाकुर से पैसे ऐंठ लिए. करीब 10 लाख 70,630 रुपए इस जालसाज युवक ने ऐंठ लिए.

खोला जाली अकाउंट
करण का पैसे ऐंठने के साथ ही ठाकुर परिवार के यहां आना-जाना भी शुरू हो गया था. उसने मि. बिल्ट के नाम से जाली अकाउंट खोला. उसके माध्यम से ठाकुर परिवार को अनेक मैसेज भेजे और उसी मैसेज के जरिए पैसों की उगाही की.

दो आरोपी पुलिस हिरासत में
इस जालसाजी में पुलिस ने करण चौरागडे. और परदे के पीछे साथ देने वाले उसके साथी शुभम अग्रवाल को गिरफ्तार कर लिया है. इसमें और आरोपियों के बढ.ने की संभावना जताई जा रही है.