Published On : Mon, Dec 8th, 2014

मूल : विद्युत तार डालकर वन्य प्राणियों का शिकार करने का प्रयास, 1 गिरफ्तार


चिचपल्ली वनपरिक्षेत्र के केलझर की घटना

Mool Forest
मूल (चंद्रपुर)। तालुका के केलझर के खेत में विद्युत तार लगाकर वन्य प्राणियों का शिकार करने के मामले में पृथ्वीराज दयाल बोरकर को चिचपल्ली वनविभाग के अधिकारियों ने गिरफ्तार कर 104 मिटर जिआय तार, 27 बाम्बु खुटियाँ जब्त की है.

प्राप्त जानकारी अनुसार केलझर क्षेत्र के अंधारी नदी के समीप रेलवे पुल के समीप सर्वे नं. 04 के खेत में गत अनेक दिनों से वन्य प्राणियों का शिकार करने के लिए विद्युत तार बिछाने की गुप्त सुचना वनविभाग को मिली. जानकारी के आधार पर चिचपल्ली वनपरीक्षेत्र के अधिकारी ए.एम.पठान ने रविवार को केलझर में गस्त लगाकर इस घटना की जानकारी निकाली. उनकों खेत के सर्वे में वन्य प्राणियों का शिकार करने के लिए विद्युत तार बिछाई हुयी दिखाई दी. इस दौरान घटना स्थल पर आरोपी पृथ्वीराज दयाल बोरकर उपस्थित नहीं था लेकिन बुलाने पर उक्त प्रकार मैंने किया ऐसा उसने कुबूल किया. यह खेत आरोपी पृथ्वीराज बोरकर की माँ के नाम पर है.

घटना की जानकारी मिलते ही वनपरीक्षेत्र अधिकारी पठान, बिजली कंपनी और पुलिस विभाग के अधिकारी घटनास्थल पर पहुँचे. वनविभाग के सहा. अभियंता लांजे और वायरमन डोनिवार ने 220 वॉट पर लगे विद्युत तार का आकोड़ा केलझर सरपंच और पुलिस पाटिल के समक्ष निकालकर बिजली प्रवाह खंडित की. यह कार्रवाई चिचपल्ली वनपरीक्षेत्र  के अधिकारी ए.एम.पठान, चिचपल्ली क्षेत्र सहा. के.ए. निमगडे, मूल क्षेत्र सहा. व्हि जी. जांभुले, महादवाड़ी के क्षेत्र सहा. कु.ए.बी. मडावी, वनरक्षक एन.व्ही पड़वे, पि.बि. धांडे, आर.आर. शिवणकर, तोड़ासे, मेश्राम, वनकर और वनकर्मचारी, पुलिस विभाग के ठाकुर और पो. कॉ. शेंडे ने की. इस दौरान बिजली वितरण कंपनी और पुलिस विभाग ने संयुक्त कार्रवाई की. लेकिन केलझर के क्षेत्र सहा. विदेश गलगट और विट वनरक्षक धारणे की उपस्थिती नहीं होने से उनके प्रती रोष व्यक्त किया गया है.