Published On : Tue, Feb 3rd, 2015

अमरावती : बेमियादी ट्रान्सपोर्ट लोडिंग बंद


हड़ताल से मच सकता है हा-हाकार

no entry
अमरावती।
शहर में नो एंट्री के समय में बदलाव से संतप्त अमरावती ट्रान्सपोर्ट व्यवसायियों ने मंगलवार से कृषि उपज मंडी में लोडिंग बंद कर बेमियादी हड़ताल की घोषिणा की है. जिससे कृउबा से जीवनाश्यक वस्तू, अनाज समेत सभी जरुरी सामान लोडिंग का काम पुरी तरह ठप्प पड़ गया है. ट्रान्सपोर्टरों की इस हड़ताल से आने वाले दिनों में व्यापारी समेत नागरिकों की परेशानी और अधिक बढऩे की संभावना है. अमरावती ट्रान्सपोर्ट एजेंट एसोसिएशन के बैनर तले ट्रक चालक-मालक एसो. मोटर मालक व यातायात संघ, न्यु एकता गिट्टी बोल्डर एसो.,अमरावती मालधक्का ट्रक असोसिएशन, कृषी बाजार लोकल चालक-मालक संघ तथा जनरल गुड्स ट्रान्सपोर्ट, मिनी ट्रान्सपोर्ट तथा टिप्पर असोसिएशन संगठनाओं ने एकजुटता के साथ लोडिंग बंद करने का निर्णय लिया. इस क्रम में कृउबा के प्रशासक व सचिव को पत्र देकर लोडिंग बंद करने के बारे में जानकारी दी है.

नो एंट्री का समय बदलने करेगे पहल
नो एंट्री के मामले पर मंगलवार को विधायक डा. सुनील देशमुख ने विश्राम भवन में ट्रान्सपोर्ट व्यवसायियों की मीटिंग ली. इस मीटिंग में ट्रान्सपोर्ट एसोसिएशन के अध्यक्ष इमरान खान ने कहा कि शहर में भारी वाहनों को प्रवेश करने के लिए जुना बाइपास ही एक ऐसा मार्ग है, जो सभी दिशा से आने वाले ट्रकों को शहर सीमा के बाहर से कृउबा व सक्करसाथ तक जाने में मदद करता है. इस मार्ग से चांदुर रेलवे, धामणगांव, कुर्हा,भातकुली तथा यवतमाल जिले की ओर से आने वाली सभी भारी वाहन शहर में प्रवेश करते है. यदि यह मार्ग बंद कर दिया गया तो कृउबा, एदलजीन, जाफरजीन, जिनींग फैक्टरी, सक्करसाथ, आइल मिल व रासायनिक खत के गोडाऊन तक कैसे भारी वाहन पहुंच पायेगे. रात 10.30 बजे के बाद ट्रक अनलोडिंग व लोडिंग करना मुश्किल है, क्योकि रात में कोई हमाल नहीं मिलते, वहीं देर रात कब ट्रक लोड होगा. इसीलिए नो एंट्री का पुराना समय ही ठीक है. विधायक देशमुख ने फोन पर डीसीपी बी.गावराने से बातकर नो एंट्री की जानकारी ली. इस बारे में पहल करने का आश्वासन दिया.

इस समय ट्रान्सपोर्ट व्यवसायी अताउल्ला खा, अ.जमीर, अबरार अहमद, कपील तिवारी, दीपक कौसकिया, सलीम खा, दिनेश लढ्ढा, जकीउल्ला खा, मो.शकील, अ.सत्तार, शे.अहमद, विलास लिखीतकर, जीया अहमद, सै.युसुफ, मगन बाटीया, राजु डेहनकर, अ.रशीद, फारुख अहमद, विजय शर्मा, पप्पु लुल्ला समेत अन्य थे.