Published On : Fri, Nov 1st, 2019

आज पंचमी को दोपहर 4 बजे जमकर बरसे बादल

काटोल : अभी इस वर्ष मुर्ग नक्षत्र में समय अनुसार बारिश ने सुरवात हुयी वहीं कुछ दिनों की विश्रांति के साथ मृग नक्षत्र समाप्ती के साथ संपूर्ण जिले सहीत राज्य तथा देश हर जगह से धुवाधार बारिश तथा आंधी-तूफान और बारिश कहर जारी होने सभी नदियों तथा नालों को धो – धो करते हुए बारिश के पानी का प्रकोप की खबरें सुनाई दे रही थी वहीं

इस वर्ष हो रही धुवाधार बारिश किसानों मृग नक्षत्र भुवाई की गयी सभी फसलें सोयाबिन, उडिद, मुंग, ज्वार, भुइमुग फसलें अतिवृष्टी के कारण खडी फसलें बर्बाद हो गई है वहीं सफेद सोना यांनी कपास की फसलें बर्बाद कगार पर पहुंच गयी है वहीं अबिया बाहर संतरा फसलों के उत्पादन किसानों फल अभी भी हो रही झमाझम बारिश अतिवृष्टी के कारण सड़क फल पेड़ों पर से जमीन पर गिर कर मिट्टी मोल हो रहे वही बारिश रुकने का नाम नहीं ले रही है।

वहीं अभी-अभी दिपावली के दिन दोपहर तथा मध्य रात्रि को जमकर बरसते रहें वहीं अभी चार दिन के विश्रांति के बाद आज पंचमी के दिन सुबह से ही सूरज देवता कही दर्शन नहीं हुये वहीं चार बजे शाम साडेपाच बजे तक बिजली की गर्जना और आवाजों के साथ जमकर बरसे बादलों हाहाकार मचाकर रखा है जिससे किसानों मायूसी भरा हुआ है तथा इस वर्ष हो रही अतिवृष्टी कारण काली दिपावली का सामना करना पड़ा है सभी और किसानों निराशा हाथ लग रही है