Published On : Sun, Mar 8th, 2015

कोराडी : भाजपा संघठन ढांचा मजबूत बनाए – अमित शाह

Amit Shah
कोराडी (नागपुर)। नागपुर के एक दिवसीय दौरे पर आए राष्ट्रीय भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने रविभवन में शुक्रवार शाम को आयोजित पार्टी सांसद, विधायक एवं शहर-ग्रामीण भाजपा पदाधिकारियों को अपने संबोधन में कहां की, महाराष्ट्र में पार्टी को अच्छा जन समर्थन मिला है, फिर भी पार्टी का ढांचा मजबूत करने की आवश्यकता है. अगली होली तक भाजपा संविधान अनुरूप रचना का कार्य पूर्ण होगा, ऐसा उन्होंने विश्वास व्यक्त किया. मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान में बना संघठन ढांचा महाराष्ट्र में भी तैयार करने की आवश्यकता है. उन्होंने होली के पर्व पर सभी उपस्थितों को बधाई दी.

उन्होंने कहा कि, राज्य में 60-65 प्रतिशत जगह पर पार्टी की जीत हुई है. कई विधानसभा क्षेत्र में हम पहली बार जीते है. राज्य के मुख्य मंत्री लोकप्रिय एवं कार्यक्षम है. हमे पार्टी का कार्यक्रम बूथ कार्यकर्ता तक पहुंचाने की आवश्यकता है. नागपुर महानगर पालिका में हमें अच्छा समर्थन प्राप्त है. जिसका फायदा संघटन को और मजबूत बनाने हेतु होना चाहिए. विदर्भ में पार्टी का मजबूत विस्तार करने हेतु चरणबद्ध कार्यक्रम बनाने की आवश्यकता है. राज्य सरकार नागरिकों के हित अनुरूप फैसले लेने से संघठन को फायदा होगा.

संघठन मंत्री रामलाल ने होली पर्व पर भाजपा को सामर्थ्यवान बनाने का मनोदय व्यक्त किया. मार्च माह के अंत तक भाजपा सदस्यता अभियान लक्ष पूर्ण करने का आवाहन उन्होंने उपस्थितों को किया. इस अवसर पर विशेष रूप से , उपस्थित राज्य मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस ने होली पर्व पर सभी को बधाई दी. उन्होंने कहा की सदस्यता अभियान में महाराष्ट्र अव्वल रहेगा, ऐसे प्रयास किए जाएंगे. राज्य नागपुर शहर क्रमांक पर बना रहेगा ऐसी उन्होंने उम्मीद जताई.

रविभवन पहुंचने पर पालकमंत्री चंद्रशेखर बावनकुले ने राष्ट्रीय भाजपा अध्यक्ष अमित शाह, संघठन मंत्री एवं मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस का स्वागत किया. मंच संचालन विधायक सुधाकर देशमुख ने किया. इस अवसर पर सांसद अजय संचेती, पूर्व सांसद बनवारीलाल पुरोहित, विधायक एवं शहर अध्यक्ष कृष्णा खोपडे, विकास कुंभारे, सुधाकर कोहले, डा. मिलिंद माने,समीर मेघे,सुधीर पारवे, आशीष देशमुख, भाजपा ग्रामीण अध्यक्ष डा. राजीव पोतदार, गिरीश व्यास, महानगर पालिका  नगरसेवक एवं महिला सदस्य अर्चना देहनकर, सरोज तांदुलकर, चेतना टांक एवं अन्य ग्रामीण पदाधिकारी उपस्थित थे.