Published On : Tue, Jun 27th, 2017

तोतलाडोह में मच्छुआरों के पास से मिली बाघ की हड्डियां

Advertisement

File Pic


नागपुर:
मशहूर पर्यटन स्थिल तोतलाडोह बांध में मच्छिमारी करनेवालों कुछ मछुआरों पर बाघ शिकारी होने का शक उस वक्त पुख्ता हो गया जब पेंच टाइगर परियोजना के तहत आनेवाले उसरीपार से देवदास कुमोर और सावरा से रवी धुर्वे नाम से दो आरोपियों को वन विभाग के दस्ते ने जाल बिछाकर धर दबोचा। दरअसल वन विभाग के अधिकारियों को गुप्त सूचना मिली थी कि यहां मछुआरों के पास बाघ की हड्डियां और नाखून हैं। उनसे विभाग के अधिकारी व्यापारी बनकर मिले और सौदा तय किया। जब दोनों आरोपियों ने माल देने के लिए सोमवार को बुलाया तब पहले से ही घात लगाए बैठी वन विभाग की टीम ने उन्हें धर दबोचा।

इसके बाद मंगलवार सुबह घर की तलाशी लेने पर बाघ की कई हड्डियां और नाखून जांच दल के हाथ लगे। मच्छीमारों के पास से बाघ की हड्डियां और नाखून मिलने की जानकारी से पूरी टीम सक्ते में आ गई। गिरफ्तार आरोपियों को रामटेक प्रथम सत्र न्यायाधीश की अदालत में पेश किया गया जहां आरोपियों को वन विभाग की कस्टडी में भेज दिया गया है। बताया जाता है कि आरोेपियों के पास से बरादम हड्डियां एक से अधिक बाघ की हो सकती है। हालांकि उन्होंने पूछताछ के दौरान एक बाघ का शिकार किए जाने की बात भी कबूल की है।

Advertisement

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
 

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement