Published On : Tue, Nov 13th, 2018

आरपीएफ की कार्रवाई में धराया टिकीट दलाल, 1.61 लाख रुपये की 49 ई- टिकटें जब्त

करीब 34 हजार के सिस्टम को जप्त किया गया

नागपुर: आरपीएफ की बड़ी कार्रवाई में टिकट दलाल के पास से 1 लाख 61 हजार रुपए की 49 ई- टिकटें जब्त की गई हैं. जानकारी के अनुसार वरिष्ठ मंडल सुरक्षा आयुक्त, आर.पी.एफ नागपुर ज्योति कुमार सतीजा के मार्गदर्शन में गठीत टीम के सदस्यों जिसमें उपनिरीक्षक शिवराम सिंह, प्रधान आरक्षक विजय पाटील, प्रधान आरक्षक दीपक वानखेडे, आरक्षक निलकंठ गोरे, आरक्षक किशोर चैधरी द्वारा सिटी पोलीस, धंतोली को पत्र दिया गया तथा वहां से स्टाफ को लेकर नागपुर शहर के लोकमत चौक स्थित गुप्ताजी ट्रैव्हल्स एन्ड टूर्स की दुकान में छापा मारा गया.

जहां दुकान के मालिक से पूछताछ करने पर उसके द्वारा अपना नाम – पंकज विनोद गुप्ता, उम्र – 42 वर्ष निवासी – 203/स्वर्ण आशिष कालोनी, सोनेगांव, नागपुर बताया गया. स्टाफ द्वारा दुकान के मलिक से रेल आरक्षण ई-टिकीट की कालाबाजारी के संबंध में पूछताछ करने पर उसके द्वारा अनभिज्ञता जाहीर की गई.

जिस पर स्टाफ द्वारा दुकान पर रखे 1 काॅम्प्युटर सिस्टम की सहायता से दुकान के मालिक की मौजूदगी तथा दो पंचों के समक्ष उसके द्वारा आई.आर.सी.टी.सी के लायसेंस के अलावा अलग-अलग नाम की 21 फेक आई.डी को खोलकर कुल 10 लाईव रेल आरक्षण ई-टिकट जिसकी कुल कीमत 42,189/- (ब्यालीस हजार एक सौ नवासी रुपये) की प्रिंट निकाली गई. जिसके संबंध में गहनता से पुछताछ करने पर पकड़े गए व्यक्ति द्वारा बताया गया कि आई.आर.सी.टी.सी के लाइसेंस की आड़ में अपने तथा अलग-अलग नाम की फेक आई.डी की सहायता से यात्रीयों की मांग पर रेल आरक्षण ई-टिकट निकालता है.

जिसके बदले में उसके द्वारा यात्रियो से टिकट किराए के अलावा 200 रुपए से 300 रुपअ प्रति व्यक्ति कमिशन के तौर पर लेता है. बाद में पकड़े गए व्यक्ति द्वारा रेल आरक्षण ई-टिकटों की कालाबाजारी करने का गुनाह स्वेच्छापूर्वक कबूल करने पर उपनिरीक्षक शिवराम सिंह द्वारा स्टाफ की सहायता से काॅम्प्युटर की सहायता से 21 फेक आई.डी बनाकर आरोपी द्वारा अवैध तरीके से निकाले गए कुल 39 नग रेल आरक्षण ई-टिकट जिसकी कीमत 1,18,777/- ( एक लाख अठारह हजार सात सौ सत्हत्तर रुपए) तथा1 काॅम्प्युटर सिस्टम, एक प्रिन्टर की कीमत 24000/- रुपये तथा आरोपी का एक आसुस कम्पनी का मोबाईल कीमत 10,000/- रुपए और आरोपी के पास से नगद 110/- रुपये ( कुल 49 नग रेल आरक्षण ई-टिकीट तथा जप्ती के सामानों की कुल कीमत 1,95,076/- रुपये (एक लाख पंच्यानबे हजार छिहत्तर रुपये) को जब्त किया गया.

आर.पी.एफ नागपुर द्वारा वर्ष 2018 में माह जनवरी से अब तक रेल आरक्षण ई-टिकीटों तथा रेल आरक्षण टिकीटों के कुल 24 मामले दर्ज कर कालाबाजारी के धंधे में संलग्न कुल 27 आरोपीयो को पकड कर रेल अधिनियम की धारा – 143 के तहत कार्यवाही की गई है.