Published On : Tue, Sep 23rd, 2014

अमरावती : नागपुर में चोरी करने वाले दंपत्ति अमरावती में पकडे गए

Advertisement


दंपत्ति के पास से चोरी का माल जब्त

Thieves

दीपक सरवैय्या & जमुना सरवैय्या


अमरावती।
पहचान के बहाने घर में घुसे दंपत्ति ने घर के सभी सदस्यों को प्रसाद में बेहोशी की दवाई देकर सोने-चांदी के आभूषण व नगद ऐसे कुल मिलाकर सवा चार लाख रूपए का माल चुराने वाले दंपत्ति को अमरावती होटल टुरिस्ट में पकड़ा गया. दंपत्ति के पास से चोरी का माल जब्त किया गया. आरोपी दंपत्ति का नाम यवतमाल जि. दिग्रस निवासी कन्हैय्यालाल सरवैय्या (साहू) (62) व जमुना दिपक सरवैय्या है. दिपक सरवैय्या खून के मामले में शामिल है. गत दस माह से पैरोलपर छूटने के बाद वह फरार हो गया था.

प्राप्त जानकारी के अनुसार नागपुर के रवीनगर निवासी दिनेश साहू ट्रैन से अमरावती से नागपुर जाते दौरान बाजू बैठे दीपक सरवैय्या ने दिनेश के साथ पहचान बनाई. समाज का होने से दिनेश साहू ने दीपक के प्रति सहानुभूति दिखाई. दरम्यान रविवार शाम को दीपक सरवैय्या ने दिनेश साहू को फ़ोन करके हम नागपुर में आये है और भूखे होने का बताया. दिनेश साहू ने बाहर होने का बताकर भोजन के लिए घर आने का न्यौता दिया. वही दिनेश ने पत्नी निशा साहू को महमान आनेवाले है ऐसी सुचना दी. दिनेश साहू के घर पहुंचे आरोपी दीपक सरवैय्या ने भोजन करने के बाद निशा दिनेश साहू (37), सोहेल साहू (19), प्रज्वल साहू (14), पियूष साहू (6) को प्रसाद में बेहोशी की दवाई मिलाकर दी. इस दवाई का परिणाम होने के बाद सभी लोग बेहोश हो गए सभी को बेहोश हुए देख दिपक सरवैय्या ने घर से तीन लाख 40 हजार रूपये के आभूषण और 80 हजार रूपये नगद लेकर फरार हो गए. घटना के बाद पड़ोसियों ने बेहोश सभी सदस्यों को रूग्णालय में भरती करके सीताबर्डी पुलिस को जानकारी दी. पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू की. दिनेश साहू ने अमरावती के परिजनों को इस घटना की जानकारी दी. अमरावती के परिजनों ने दीपक के मोबाईल का लोकेशन ढूंढ निकाला व टूरिस्ट होटल में जाकर दीपक सरवैय्या व उसकी पत्नी जमुना को पकड़कर कोतवाली पुलिस के हवाले किया. इस दौरान आरोपी के तरफ से चोरी का माल जब्त किया गया. इस घटना की जानकारी सीताबर्डी पुलिस को दी गई.

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Advertisement
Advertisement
 

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement