Published On : Sun, Dec 1st, 2019

खेलों के मैदान पर प्रर्दशनी की अनुमती देनेवाले अधिकारीयो की युवक कांग्रेस करेंगी बैट से धुनाई

शहर के रेशमबाग मैदान पर लगातार लग रही प्रर्दशनी और विभिन्न कार्यक्रमों के आयोजन के कारण शहर के खिलाड़ियों को खेलों के अभ्यास को लेकर हो रही परेशानियों के समर्थन में भारतीय युवा कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव तथा नगरसेवक बंटी शेलके के नेतृत्व मे नागपुर शहर युवक कांग्रेस ने रेशमबाग मैदान पर शहर की मनपा तथा नासुप्र के विरोध में जमकर विरोध प्रदर्शन किया।

बंटी शेलके ने बताया कि हाल ही में रेशिमबाग मैदान पर केन्द्रीय मंत्री सन्माननीय नितिनजी गडकरी द्वारा प्रेरित अँग्रो विजन 2019 का आयोजन किया गया था, बंटी शेलके के अनुसार वे किसानों के लिए आयोजित इस प्रर्दशनी के खिलाफ नहीं है बल्कि वे गडकरी जी द्वारा किसानों के लिए आयोजित इस उपक्रम के समर्थन में है परंतु प्रदर्शनी के बाद जिस तरह से मैदान पर आज कूड़े के ढेर लगे है वे केन्द्र सरकार के स्वच्छ भारत और खेलो इंडिया खेलों अभियान पर प्रश्नचिन्ह लगा रहे हैं।

बड़े बड़े कार्यक्रम रेशिमबाग मैदान में होने के बाद यहां खिले और बड़ी बड़ी लोहे की सलाखें यहां पड़ी रहती है, दौड़ने की ट्रैक की हालत तो देख भी नही सकते दौड़ना तो दूर की बात है, खिलाड़ी कहा जाए ऐसी परिस्तिथि आज है।


दौडते वक्त पैर मे कील जाने से कई युवक युवतीया घायल हो चुके है जीस के कारन वे पोलिस भरती की परीक्षा मे भाग नही ले पाये और ऐसे उनका सपना वही तूट गया…

एक तरफ हम ऑलिम्पिक मे खिलाडी भेजने के सपने खिलाडियो को दिखा रहे हैं और उन्हे तयारी करने के लिये मैदान भी नहीं दे सकते,कैसे खेलेगा इंडिया कैसे आंतरराष्ट्रीय स्तर पर नागपूर के खिलाडी पोहोचेंगे इसका जवाब देगा तो कौन देगा ।

रेशिमबाग ग्राउंड महत्वपूर्ण मानने जाने वाली संघ मुख्यालय की इमारत के बाजू मे आता है..

संघ मुख्यालय की छाया जिस मैदान पर है वहा आज कचरा ही कचरा पडा रहता है..

कहा गया आपका स्वच्छ भारत अभियान और तो और नागपुर के सन्माननीय नेताओ का कहना है कि खेलो नागपुर खेलो , लेकिन कहा खेलो का उत्तर पूछने पर किसी की जवाबदेही नही है, हजारो प्रतिभावान खिलाड़ियों का भविष्य नागपुर के मनपा और नासुप्र के अधिकारियों की वजह से बर्बाद हुआ है, और बर्बादी की शृंखला आज भी शूरु है।

जब भी खिलाड़ी इसकी शिकायत करने नागपुर सुधार प्रन्यास व नागपुर महानगर पालिका के अधिकारीयो के पास जाते है तो ये दोनों ही विभाग अपनी जिम्मेदारी एक दूसरे पर ढकेल देते है। इस पर युवक कांग्रेस ने चेतावनी देते हुए कहा है कि अब अगर किसी भी अधिकारी ने यदि किसानों के हितों के अलावा किसी भी निजी आयोजन की अनुमति दी तो इसके विरोध में युवक कांग्रेस बैट से उस अधिकारी की धुनाई करेगी।, सेकड़ो बार निवेदन युवा कांग्रेस द्वारा अन्य कई संघटनो द्वारा दिया गया है लेकिन आज तक जैसे थे कि अवस्था मे अधिकारी और प्रशासन है ऐसे प्रशासन को जगाने के लिए और खिलाड़ियों के हितों के लिए युवा काँग्रेस ऐसे लापरवाह प्रशासन के अधिकारियों की बैट से अब धुनाई करेगी और खिलाड़ियो को न्याय मिलवाकर देगी।

आज का यह आंदोलन राष्ट्रीय युवा काँग्रेस के सचिव नगरसेवक बंटी बाबा शेळके इनके नेतृत्व में किया गया जिसमें आज शहर अध्यक्ष तौसीफ खान,पूर्व नागपुर अध्यक्ष अक्षय घाटोले,नागपुर उपाध्यक्ष आकाश गुजर, अनुसूचित जाति जमाती सेल अध्यक्ष संजु जावड़े,मध्य नागपुर अध्यक्ष स्वप्निल ढोके,दक्षिण पश्चिम युवा कांग्रेस अध्यक्ष मंगेश बढेल,अधिवक्ता अभय रणदिवे,नागपुर शहर युवा काँग्रेस उपाध्यक्ष रोशन पंचबुधे,महासचिव नावेद शेख,कलार समाज सेल अध्यक्ष पवन चाँदपुरकर,मध्य नागपूर कार्यकारी अध्यक्ष तेजस मून,अक्षय ठाकरे,अभिषेक धोटे, मोंटू गुरव,प्रफुल्ल इज़नकर,मिलिंद धवड,राहुल बावरे,सागर चव्हाण,मंसूर भाटी,विजय मिश्रा,अतुल मेश्राम,अखिलेश राजन,तुषार मदने,निखिल कापसे,आयुष हिरणवार,पंकज मेश्राम,स्वप्निल बावनकर,शुभम् रंगारी,मोहतशीन,शुभम् निखाड़े,कुणाल वानखेड़े,अनिकेत समुंदरे,वैभव सांभारे, धीरज धकाते,राज बोकडे,पूजक मदने, प्रवीण टूले, नीलेश शिंदे, हर्षल शिंदे वैसे ही आंदोलन में विशेष सहभाग मंगेश खुरसडे और उनके साथ उनके सेकड़ो साथियो का था ।