Published On : Mon, Nov 2nd, 2020

पुलक मंच परिवार ने किया कोरोना योद्धाओं का सम्मान

नागपुर : अखिल भारतीय पुलक मंच परिवार नागपुर द्वारा लॉकडाउन में सेवा देनेवाले कोरोना योद्धाओं का सम्मान रविवार को महावीरनगर स्थित पुलक मंच परिवार के कार्यालय में किया गया.

प्रमुख अतिथि प्रसिद्ध शेफ विष्णु मनोहर, अमरस्वरूप फाउंडेशन के प्रमुख विश्वस्त मनीष मेहता, भारतवर्षीय दिगंबर जैन तीर्थक्षेत्र कमेटी के महाराष्ट्र के सदस्य नितिन नखाते, साइबर क्राइम के पुलिस निरीक्षक अमोल दोंड उपस्थित थे. सभी अतिथियों ने मार्गदर्शन किया.

कोरोना महामारी में लॉकडाउन में पुलक मंच परिवार ने अमरस्वरूप फाउंडेशन के सहयोग से पैतालीस हजार भोजन के पैकेट और दो हजार से अधिक जीवनावश्यक वस्तुओं किट का वितरण किया. वितरण करने में पुलिस विभाग का पूर्ण सहयोग प्राप्त हुआ. लॉकडाउन सेवा देनेवाले 30 कोरोना योद्धाओं ने निस्वार्थ परिश्रम कर सेवा की है यह हमारे रियल हीरो हैं. इन कोरोना योद्धाओं प्रशांत सवाने, अनंतराव शिवणकर, महेश सव्वालाखे, नरेश मचाले, नीलेश विटालकर, अमोल भुसारी, संदीप पोहरे, युगल पोहरे, प्रवीण पोहरे, संजय नखाते, डॉ. नरेन्द्र भुसारी, राजेन्द्र नखाते, मंगेश इंदाने, मंगेश सव्वालाखे, सिद्धांत नखाते, राकेश पंडित, दिलीप सावलकर, अतुल महात्में, सुदर्शन भुसारी, डॉ. रवींद्र भुसारी, प्रशांत पांडवकर, पराग पोहरे, पंकज पोहरे, प्रा. आदेश जैन बरया, सुनील आगरकर, राहुल महात्में, मधुकर कामड़े, गिरीश विटालकर का सम्मान पत्र और भेट वस्तु देकर अतिथियों सम्मान किया. अनेक बस्तियों में जाकर वहां भोजन के पैकेट, जीवनावश्यक वस्तुओं की किट का वितरण किया. जिस बस्ती में कोई आता नहीं आता था डरते थे उस बस्ती में जाकर, अपनी जान जोखिम में डालकर इन महानुभावों ने सेवा दी हैं. डॉ. नरेन्द्र भुसारी ने भी मार्गदर्शन किया. कार्यक्रम का संचालन पुलक मंच परिवार के राष्ट्रीय कार्याध्यक्ष मनोज बंड ने, स्वागत भाषण डॉ. रवींद्र भुसारी, आभार शाखा अध्यक्ष शरद मचाले ने माना.