| | Contact: 8407908145 |
    Published On : Thu, May 21st, 2020

    लॉकडाउन के कारण ई -रिक्शा चालक मुसीबत में फंसे,सरकार से मदद की अपील

    नागपूर– नागपूर शहर में कोरोना के संक्रमण के चलते करीब करीब 2 महीने से लॉकडाउन चल रहा है. इस लॉकडाउन के कारण ई-रिक्शा चालको पर भूखों मरने की नौबत आ गई है. इनके लिए घर खर्च चलाने के साथ गाड़ी की इंस्टॉलमेंट का संकट भी आ गया है. याद रहे कि ई-रिक्शा ज्यादतर ऐसे लोग चलाते है जो वृद्ध है, जो मजदूरी वाला काम नही कर सकते. इनमें कई लोग ऐसे भी है,जो विकलांग है.

    इन ई-रिक्शा चालकों ने केंद्रीय ग्रामसभा नागपुर शहर सुधार समिति के अध्यक्ष प्रवीण राऊत से मांग की थी कि वे इनकी मांग सरकार तक पहुंचाए और इनको मदद दिलवाए.

    प्रवीण राऊत ने सरकार से मांग की है कि इनके खाते में 15 हजार रुपयें डाले जाए. जिससे कि यह अपना घर चला सके. इसके साथ ही इनकी मांग है कि एयरपोर्ट, रेलवे स्टेशन, मेट्रो, बस स्टैंड की पार्किंग इनके लिए निशुल्क की जाए.

    राऊत का कहना है कि वे जिलाधिकारी के मार्फत मुख्यमंत्री, प्रधानमंत्री से इनकी मदद करने का निवेदन करेंगे. राऊत का कहना है कि 15 लाख नही तो कम से कम 15 हजार ही इन लोगों के एकाउंट में डाले जाए.

    Stay Updated : Download Our App
    Mo. 8407908145