Published On : Sat, Aug 22nd, 2020

पर्यावरण संतुलन का सदेश देता नन्हा रुचीर भुतडा

काटोल: काटोल के समिपस्थ लिंगा गांव के आठ वर्षीय चि’ रुचीर राजेश भुतडा ने अपने खेत के मिट्टी से ही खुद ही गणपती की मुर्ती बनाई तथा 22अगस्त को अपने ही घर पर स्थापना कर विधिवत पुजा की।

नन्हे बालक ने पर्यावरण संतुलन के लिये दिया यह संदेश महत्वपूर्ण कहा जा सकता है ।