Published On : Mon, May 11th, 2015

चंद्रपुर : कुख्यात ‘‘हाजी’ पहुंचा सेंट्रल जेल

चंद्रपुर जेल प्रशासन ने हाजी को नकारा

सवांददाता / महेश पानसे

चंद्रपुर। 25 मामलों में वांछित कुख्यात तस्कर शेख हाजी हाजी शेख सरवर को 22 मई तक न्यायालयीन कस्टडी में रखने का आदेश शनिवार देर शाम स्थानीय न्यायालय ने दिया. जिला पुलिस प्रशासन में तब खलबली मच गयी जब चंद्रपुर कारागृह के अधिकारियों ने हाजी को जेल में रखने से मना कर दिया. आखिर इस कुख्यात आरोपी को तुरंत नागपुर के सेंट्रल जेल में भेजने की मशक्कत पुलिस प्रशासन को करनी पडी. ज्ञात रहे हाजी को 5 मई मंगलवार को स्थानीक गुन्हे शाखा के दस्ते में नकोडा में धरदबोचा था.

Advertisement

एक साल बाद पुलिस के हत्थे चढे़ इस मोस्ट वांटेड आरोेपी को 9 मई तक पुलिस रिमांड में रखने के न्यायालयीन आदेश थे. 9 मई को देर शाम अदालत ने हाजी को 22 मई तक न्यायालय कस्टडी में रखने के आदेश देने के बाद उसे तुरंत चंद्रपुर जेल में ले जाया गया. पर चंद्रपुर जेल अधिक्षक ने सुरक्षा कारनों से उसे रखने में असमर्थता दिखाई. पुलिस विभाग कई मन्नतों के बाद भी जब चंद्रपुर जेल प्रशासन ने हाजी को नकारा तब पुलिस के होश उड गये और हाजी को तुरंत सेंट्रल जेल नागपुर भेजने की कसरत करनी पड़ी.

Advertisement

कारागृह अधिक्षक चव्हाण के बयान के अनुसार हाजी 1 खतरनाक आरोपी है तथा चंद्रपुर जेल में स्थानिक सुरक्षा व्यवस्थों की कमी होने से इस खतरनाक आरोपी को यहां रखना उचित नहीं था. वहीं दूसरी ओर जेल प्रशासन की हाजी विरोधी रवैये से मुश्किलों का सामना करना पड़ा यह पुलिस प्रशासन का आरोप है.

सुना जाता है की चंद्रपुर जेल में हाजी के कई कट्टर दुश्मन भी सजा भूगत रहे है. उसे यहां रखने से दो गुटों में टकराव पैदा होने का डर तथा चंद्रपुर जेल में हाजी समर्थक कर्मचारियों की बड़ी संख्या के कारण जेल अधिक्षक ने हाजी को यहां रखने से मना कर दिया था. कई बार चंद्रपुर जेल प्रशासन के कैदी समर्थक कारनामों से खिचाई हो चुकी है.

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

 

Advertisement
Advertisement
Advertisement