Published On : Wed, Mar 24th, 2021

चेंबर ने श्रीमती निर्मलाजी सीतारमन को आयकर एवं जी.एस.टी. फाइलिंग की अंतिम तारीखे आगे बढ़ाने हेतु दिया प्रतिवेदन

विदर्भ के 13 लाख व्यापारियों की अग्रणी व शीर्ष संस्था नाग विदर्भ चेंबर आॅफ काॅमर्स ने माननीय केन्द्रीय मंत्री श्रीमती निर्मलाजी सीतारमन को मार्च माह आने वाली आयकर एवं जी.एस.टी. रिर्टन फाइलिंग अंतिम तारीखों का आगे बढ़ाने हेतु प्रतिवेदन दिया।
चेंबर के अध्यक्ष श्री अश्विन मेहाड़िया ने कहा कि संपूर्ण विश्व के साथ भारत कोरोना महामारी के दंश को झेल रहा है।

सरकार द्वारा गत वर्ष 2020 में मार्च माह से 6 महीने से अधिक समय तक लाॅकडाउन लगाया गया तथा बाद में समयबद्ध तरीके से टप्पे-टप्पे से आर्थिक गतिविधियां शुरू करने की अनुमति दी गई। भारत के साथ महाराष्ट्र राज्य में फरवरी 2021 से पुनः कोरोना का संक्रमण तेजी से फैलने लगा। जिसके कारण महाराष्ट्र राज्य के कुछ शहरों में मार्च में लाॅकडाउन लगाया गया तथा अकांउट संबंधी कार्यो हेुतु कम क्षमता से कर्मचारियों की उपस्थिती के साथ कार्य करने की अनुमति प्रदान की। मार्च माह वित्तीय वर्ष का अंतिम माह होने के साथ-साथ आयकर एवं जी.एस.टी. के विभिन्न अनुपालन एवं रिर्टन फाइल करने की अंतिम तारीखें 31 मार्च 2021 तक है। कोरोना महामारी की वर्तमान परिस्थतियों एवं लाॅकडाउन के कारण करदाता को करों अनुपालन एवं रिर्टन संबंधी कार्यवाही को पूर्ण करने एवं दस्तावेजों का जमा कराने में अनेक परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

चेंबर प्रत्यक्ष कर समिती के संयोजक सी.ए. संदीप जोटवानी ने कहा कि तिमाही एडवांस टैक्स पेमेंट, फरवरी 2021 का मासिक इलेक्ट्रानिक चालान, ESI चालान, वर्ष 2020-21 का जनवरी-मार्च 2021 के तिमाही रिर्टन फाइल करने की अंतिम तारीखें मार्च 2021 में है, जिसे आगे बढ़ाया जाना चाहिये। वर्ष 2019-20 आयकर आॅडिट एवं नाॅन आॅडिट के मामलों तथा रिवाइस रिर्टन फाइलिंग की तारीखों के साथ-साथ “विवाद से विश्वास योजना” की तारीख भी आगे बढ़ाना चाहिये।

चेंबर के अप्रत्यक्ष कर समिती के संयोजक सी.ए. रितेश मेहता ने कहा कि फरवरी 2021 के GSTR-3B, GST QRMP, GSTR-5, GSTR-5A, CMP-02 तथा वर्ष 2021-22 के लिये LUT की अंतिम तारीखें मार्च 2021 है जिसे आगे बढ़ाया जाना चाहिये।
चेंबर के सचिव श्री रामअवतार तोतला ने कहा कि सरकार ने कोरोना महामारी की वर्तमान परिस्थितियों एवं व्यापारी वर्ग की आर्थिक परेशानियों का संज्ञान लेते हुये आयकर एवं जी.एस.टी. के अनुपालन एवं रिर्टन फाइल करने की मार्च 2021 विभिन्न अंतिम तारीखों को आगे बढ़ाकर करदाता को राहत देना चाहिये।

उपरोक्त प्रेस विज्ञप्ति द्वारा सचिव श्री रामअवतार तोतला ने दी।