Published On : Tue, Sep 26th, 2017

30 सितंबर को सीएम – गड़करी के हाँथो माझी मेट्रो के आतंरिक ट्रायल के अंतिम चरण का होगा शुभारंभ


नागपुर: नए वर्ष से शहरवासी माझी मेट्रो की जॉय राइड का आनंद ले सकेंगे। मेट्रो के मैनेजिंग डायरेक्टर बृजेश दीक्षित ने जानकारी देते हुए बताया कि ट्रायल रन को लेकर सम्बंधित विभागों के साथ कागज़ी कार्रवाई पूरी की जा चुकी है। अधिकृत तौर से नए वर्ष के शुभारंभ के साथ ही एलोवेटेड रूट पर मेट्रो दौड़ने भी लगेगी। ट्रायल रन से पहले नागपुर मेट्रो इन दिनों आतंरिक तौर पर परिक्षण को अंजाम दे रही है। खापरी से एयरपोर्ट साऊथ मेट्रो स्टेशन के बीच 5. 4 किलोमीटर के रूट पर निरिक्षण और परिक्षण का काम जारी है।

31 मई 2015 से शुरू नागपुर मेट्रो का काम दो वर्ष से ज्यादा का समय बीत चुका है। इस समयावधि में हुए विकास कार्यो से जनता को अवगत कराने के लिए इसी महीने की 17 तारीख को मेट्रो के खापरी स्थित डीपो में एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया है। इस कार्यकर्म में मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस और केंद्रीय मंत्री नितिन गड़करी के समक्ष नागपुर मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन द्वारा एक प्रेजेंटेशन दिया जायेगा। साथ ही इसी दौरान सीएम और गड़करी मेट्रो के अंतिम आतंरिक परिक्षण को हरी झंडी भी दिखाएंगे।

एमडी दीक्षित के मुताबिक ट्रायल रन को लेकर इस काम को करने वाली एजेंसियों के साथ कागज़ी कार्रवाई को पूरा किया जा चुका है। कमर्शियली मेट्रो को रन करने से पहले दो प्रमुख तरह के टेस्ट से गुजरना पड़ता है। रेल्वे बोर्ड की संस्था आरडीएसओ ( रिसर्च डिजाइन एंड स्टैंडर्ड ऑर्गेनाइजेशन ) अक्टूबर महीने से से शुरू हो जाएगा जबकि नवंबर माह में सीएमआरएस ( कमिश्नर ऑफ़ रेल्वे सेफ़्टी ) की जाँच पूरी की जाएगी।

कम दुरी के सेक्शन के ट्रायल की प्रक्रिया पर जानकारी देते हुए एमडी ने बताया की नागपुर मेट्रो की पूरी परियोजना में यही भाग एलोवेटेड है। प्रथम चरण में इसके चालू हो जाने से आगे के रास्ते में किये जाने वाले काम से सहूलियत होगी। उन्हें पता है की दुरी काम होने से यहाँ पैसेंजर ट्रैफिक नहीं होगा लेकिन मेट्रो को लेकर उत्सुक जनता जॉय राइड का आनंद ले पायेगी।

कॉमन मोबिलिटी कार्ड का किया जायेगा लोकार्पण
30 सितंबर को आयोजित कार्यक्रम में एसबीआई के सहयोग से जारी किये गए कॉमन मोबिलिटी कार्ड का भी लोकार्पण किया जायेगा। इस मौके पर एसबीआई की चैयरमेन अरुंधति भट्टाचार्य भी मौजूद रहेगी। यह कार्ड सिर्फ मेट्रो में सफर तक सीमित न रहते हुए फीडर सेवा,आपली बस के साथ भी कनेक्ट रहेगा।

शहर की संस्कृति को प्रदर्शित करते मेट्रो के डिब्बों का होगा दीदार
कई खूबियों से युक्त नागपुर मेट्रो को कई तरह के कलेवरों में ढालने का प्रयास किया जा रहा है। मेट्रो परियोजनाओं के नागपुर मेट्रो के अनोखेपन में एक खास पहचान उसके डिब्बे भी रखेंगे। इन डिब्बों के माध्यम से शहर की सांस्कृतिक विरासत और पहचान को प्रदर्शित किया जाएगा। हालहीं में ऐसे ही ड़िब्बे नागपुर में पहुँच चुके है जिसका दीदार भी 30 सितंबर के कार्यक्रम में होने की जानकारी नागपुर मेट्रो के एमडी ने दी।