Published On : Tue, Feb 7th, 2017

पनीरसेल्वम ने की बगावत

चेन्नई. तमिलनाडु के मुख्यमंत्री ओ. पनीरसेल्वम ने आखिरकार पार्टी से बगावत कर दी है. उन्होंने कहा है कि उन्हें मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देने के लिए मजबूर किया गया है. उन्होंने दावा किया कि अम्मा यानि जयललिता की आत्मा ने उनसे बात की है. अम्मा ने उन्हें सब सच बताने को कहा है. उसके बाद ही उन्होंने अपना मुंह खोला है.

उन्होंने कहा कि जयललिता जब अस्पताल में थीं तो उन्होंने मुझे मुख्यमंत्री पद संभालने को कहा था. पनीरसेल्वम ने कहा कि जो राज्य के हितों की रक्षा कर सकता है, उसे ही मुख्यमंत्री बनना चाहिए. उन्होंने कहा कि मुझे सीएम पद दे तो दिया गया था, लेकिन लगातार मेरी बेइज्जती की जाती रही.

इससे पहले पनीरसेल्वम आज सभी को हैरान करते हुए जयललिता की समाधिस्थल पर अकेले ही ध्यान लगाकर बैठ गए। दो दिन पहले ही पनीरसेल्वम ने मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देकर पार्टी प्रमुख वीके शशिकला के इस पद पर आसीन होने का मार्ग प्रशस्त कर दिया था.

Advertisement

सफेद कमीज एवं धोती पहने पनीरसेल्वम समाधिस्थल के भीतर फर्श पर परंपरागत ध्यान की मुद्रा पर बैठे रहे. वहां करीब 40 मिनट तक बैठे रहने के बाद उन्होंने अपनी आंखें खोलीं और आंसू पोंछे. पनीरसेल्वम ने इसके बाद सम्मान में हाथ जोड़ा और वहां से जाने से पहले प्रार्थना की.

Advertisement

पनीरसेल्वम रात करीब नौ बजे समाधिस्थल पर पहुंचे और वहां ध्यान में बैठने से पहले पुष्पांजलि अर्पित की. जब वह ध्यान में बैठे थे उनकी सुरक्षा में कुछ व्यक्ति सादे कपड़ों में खड़े थे. पनीरसेल्वम के ध्यान में बैठे होने की खबर फैलने के साथ ही वहां भीड़ जुटनी शुरू हो गई.

Advertisement

Advertisement
Advertisement
 

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement