Published On : Tue, Apr 28th, 2015

नरखेड : छात्रों को ध्येय बनाने के लिए निरीक्षण करना जरुरी है – प्रफ्फुल डहानकर

Drawing classes
नरखेड (नागपुर)। तालुका के छात्रों के संपूर्ण विकास के लिए डहानकर चित्रकला अकादमी में छात्रों को मुफ्त मार्गदर्शन शिविर में सभी स्कूल के और डहानकर चित्रकला अकादमी के छात्र उपस्थित थे. इस स्पर्धा के युग में छात्रों को अपना ध्येय पाने के लिए विविध क्षेत्र में जाने के लिए दिशा देना आवश्यक है. हर छात्र की रूचि अलग-अलग है. इस दौरान प्रफ्फुल डहानकर ने इंजीनिअर, डाक्टर, चित्रकार, शिल्पकार, पत्रकार, पुलिस आदि पर मार्गदर्शन किया गया.

छात्र ध्येय पूछने के लिए दूसरी ओर जाना गलत है. क्योंकि ध्येय बनाते हुए छात्र खुदकी रूचि पर ध्येय निर्धारित करे. जिससे भविष्य के लिए आसान होता है. अभिभावकों ने छात्र को जिस क्षेत्र में रूचि है उसी क्षेत्र में जाने के लिए प्रेरित करे. छात्रों को अपने क्षेत्र में करिअर बनाने के लिए ध्येय, ज्ञान, आत्मविश्वास होना आवश्यक है.

हर छात्रों के अभिभावकों को अपना बच्चा भविष्य में बड़े पद पर जाने अपेक्षा रहती है. लेकिन उसमे कुछ छात्र आर्थिक परिस्थिति से कमजोर होते है. जहां भारत आंधले, अमिताभ बच्चन, शाहरुख खान ऐसे उदाहरण देकर छात्रों को मार्गदर्शन किया गया. डहानकर चित्रकला अकादमी के शिक्षक चित्रकार प्रफुल डहानकर ने कहां कि छात्रों को माता-पिता, शिक्षकों का मार्गदर्शन लेकर भविष्य में आगे बढे. देश के लिए बड़ी से बड़ी पदवी हासिल करके माता-पिता का नाम रोशन करे.