Published On : Wed, May 26th, 2021

विद्यार्थी पुस्तकों का आदान प्रदान करें

नागपुर:देश और दुनिया कोरोना जैसी महामारी से जूझ रही है मुहम्मद शाहिद शरीफ़ चेयरमैन आर टी ई एक्शन कमिटी इन्हें अनेक शिकायतें पालकों द्वारा प्राप्त हो रही है की महामारी के समय जहाँ ऑनलाइन प्रक्रिया में शिक्षा दी जा रही है लेकिन वही दूसरी ओर स्कूलों द्वारा किताबें लेने का ज़ोर पालकों पर दिया जा रहा है और ऑनलाइन में होने वाली दिक्कतें मोबाइल की ख़राबी और इंटरनेट की स्पीड यह आम बात हो गई है और स्कूल एक तरफ़ किताबें लेने पर पालकों को मजबूर कर रहे हैं ऐसी हालत में महामारी को देखते हुए अभिभावक अपने बालकों से अनुरोध कर किताबों का आदान प्रदान करें जिससे अभिभावकों पर शिक्षा के बाज़ारीकरण का बोझ कम पड़ेगा और साथी शिक्षा भी प्राप्त हो जाएगी पालक स्कूल परिसर तथा उनके द्वारा दी गई दुकानों से पुस्तक के ना ले( उच्च न्यायालय के आदेशानुसार)
आने वाले समय में स्वयंसेवी संस्था द्वारा केन्द्रीय पुस्तकालय की स्थापना की जाने वाली है जिसकी जानकारी आर टि -ई एक्शन कमिटी के कार्यालय से पालकों को प्राप्त हो जाएगी।

Advertisement

Advertisement

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

 

Advertisement
Advertisement
Advertisement