Published On : Sat, Jul 8th, 2017

राजनैतिक कारणो को लेकर नहीं कराए जा रहे स्टूडेंट कॉउन्सिल के चुनाव

Nagpur University
नागपुर:
 राष्ट्रसंत तुकडोजी महाराज नागपुर विश्वविद्यालय के स्टूडेंट कॉउन्सिल के चुनाव इस वर्ष भी नहीं होने के आसार नजर आ रहे है. क्योकि अभी तक राज्य सरकार की ओर से चुनाव से संबंधी सूचनाएं नहीं आयी है. पिछले 3 वर्षों से स्टूडेंट कॉउन्सिल के इलेक्शन नहीं हो रहे है. जिसके कारण विद्यार्थियों का प्रतिनिधितत्व करने के लिए अब किस तरह से सदस्य नियुक्ति की जाए यह सवाल विद्यार्थियों को परेशान कर रहा है. सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार स्टूडेंट कॉउन्सिल के इलेक्शन नहीं कराना यह राज्य सरकार की कमजोरी साबित करती है और यह सब एक सोची समझी साजिश के तहत हो रहा है. इलेक्शन से जुडी सभी प्रक्रिया रुकवा दी गयी है. इलेक्शन नहीं होने की वजह से विद्यार्थियों की शिक्षा के संबंध में उच्च अधिकारियों से भी कोई मिल नहीं पा रहा है. जिसके कारण विद्यार्थियों की समस्याओ का निराकारण नहीं हो पा रहा है. हालांकि तीन साल पहले हर वर्ष इलेक्शन कराए जाते थे.

विद्यार्थियों का कहना है की स्टूडेंट कॉउन्सिल के इलेक्शन होने के बाद जब सदस्य नियुक्त होते थे तो विद्यार्थियों के व्यक्तित्व का विकास होता था. विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता था. विद्यार्थियों के लिए कौशल विकास कार्यक्रम भी किये जाते थे. लेकिन अब कोई भी ऐसा उपक्रम नहीं किया जा रहा है. विभिन्न विद्यार्थी संघटन की ओर से नागपुर विश्वविद्यालय प्रशासन से यह भी मांग की गई थी की चुनाव जब तक नहीं होते तब तक स्थानिक लेवल पर सभी विद्यार्थी संघटनों के प्रतिनिधियों का चुनाव करे और वे भी ऐसे विद्यार्थियों का चुनाव करे जो नागपुर विश्वविद्यालय में प्रवेशित विद्यार्थी हो. लेकिन फिर भी विश्वविद्यालय ने इस मांग की तरफ कोई ध्यान नहीं दिया.

इस बारे में राष्ट्रसंत तुकडोजी महाराज नागपुर विश्वविद्यालय के कुलगुरु डॉ. सिध्दार्थविनायक काणे ने जानकारी देते हुए बताया की सरकार की ओर से स्टूडेंट कॉउन्सिल इलेक्शन के लिए नियामवली तैयार नहीं की गयी है. स्टूडेंट इलेक्शन कॉउन्सिल अमेंडमेंट राज्य सरकार द्वारा विश्वविद्यालय को भेजा जाता है. लेकिन वह अब तक नहीं आया है. उन्होंने बताया की उसमे नियमो को लेकर सम्पूर्ण जानकारी होती है. काणे ने यह भी बताया की इस साल चुनाव होने की उम्मीद कम है अगले साल ही चुनाव हो सकते है.

Advertisement
Advertisement

Advertisement
Advertisement

Advertisement
Advertisement
 

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement