| | Contact: 8407908145 |
    Published On : Wed, Jun 14th, 2017
    nagpurhindinews | By Nagpur Today Nagpur News

    बोर्ड के ग्रेस अंकों को लेकर विद्यार्थी हुए परेशान, टॉपर विद्यार्थियों के साथ ही उनके परिजनों में भी बना रहा सम्भ्रम


    नागपुर:
     मंगलवार को राज्य माध्यमिक व उच्च माध्यमिक मंडल की ओर से दसवीं कक्षा के रिजल्ट जारी किए गए. बोर्ड की ओर से कुछ महीने पहले निर्णय लिया गया था कि दसवीं के विद्यार्थियों को पढ़ाई के अलावा विशेष गुण के भी अतिरिक्त अंक दिए जाएं. जिसके कारण इस वर्ष के दसवीं के परीक्षा परिणामों में विद्यार्थियों को संगीत, चित्रकला व अन्य गुणों के लिए विद्यार्थियों को अतिरिक्त 20 अंक दिए गए. जिसके कारण विद्यार्थियों का प्रतिशत का दर बढ़ गया. नागपुर शहर के साथ ही राज्य के कई जिलों में रात 8 बजे तक स्थिति साफ नहीं हो पाई थी कि आखिर शहर से टॉपर कौन है. अमूमन किसी भी परीक्षा का रिजल्ट घोषित होने के बाद दोपहर तक या फिर शाम तक टॉपर की जानकारी सभी को मिल जाती है. लेकिन इस वर्ष की दसवीं कक्षा के परीक्षा परिणामों के बाद विद्यार्थी भी अपनी स्थिति को लेकर शाम तक काफी असमंजस में दिखाई दिए.

    जो विद्यार्थी अतिरिक्त अंकों के साथ टॉप पर रहे वे भी रिजल्ट के दिन परेशान रहे तो वहीं बिना अतिरिक्त अंकों वाले भी टॉपर होने के बावजूद दिन भर भ्रमित रहे. विद्यार्थियों के साथ जब बातचीत की गई तो उनके साथ ही उनके परिजन भी काफी उलझन में दिखाई दिए. इस बारे में रामदासपेठ के सोमलवार स्कूल के ट्रस्टी प्रकाश सोमलवार से जब बात की गई तो उन्होंने कहा कि बोर्ड के तय नियमों के अनुसार ही टॉपर की लिस्ट लगाई गई है. हालांकि वे भी पूरी तरह से आश्वस्त नहीं दिखाई दिए.

    ग्रेस अंको को लेकर जानकारी के लिए इस बारे में जब नागपुर मंडल के विभागीय सचिव अनिल पारधी से संपर्क किया गया तो उन्होंने फ़ोन नहीं उठाया.

    Stay Updated : Download Our App
    Mo. 8407908145