Published On : Mon, Jul 16th, 2018

श्री संत गजाजन महाराज नागरी सहकारी संस्था द्वारा ‘ स्वयंनिर्भर ‘ कर्ज योजना का शुभारंभ

नागपुर: रेशमबाग स्थित श्री संत गजानन महाराज नागरी सहकारी पंत संस्था पिछले 23 वर्षो से समाज के विभिन्न समूहों के सभासदों को आर्थिक सहायता प्रदान करते आयी है. बेरोजगारी यह एक देश की ज्वलंत समस्या है और इस समस्या के कारण देश की समाजव्यवस्था कमजोर हो चुकी है.

बेरोजगारो को मदद करने के दृष्टिकोण से संस्था द्वारा ‘ स्वयंनिर्भर ” कर्ज योजना का शुभारंभ किया गया है. इस योजना के अंतर्गत संस्था के सभासदो को ई- रिक्शा खरीदी के लिए आर्थिक मदद की गई है. सोमवार को ई-रिक्शा का हस्तांतरण संस्था के मुख्यालय में संपन्न हुआ.

इस दौरान संस्था के संस्थापक गोविंदरावजी मोंढे, सामाजिक कार्यकर्ता श्याम चरोडे, राजेश गुजर, संस्था के संचालक देवराव जिकार,परमानन्द लोनारे, बिपिन गोहने, चिंतामन झंझाडे, मुख्य कार्यालय के व्यवस्थापक नारायण पौणिकर, नारायणी ऑटोमोबाइल्स के संचालक नितेश अग्रवाल समेत कर्मचारी और अभिकर्ता मौजूद थे.

इस दौरान संस्था के अध्यक्ष स्वप्निल मोंढे ने बताया कि समाज के आखरी व्यक्ति तक केवल सहकार क्षेत्र ही पहुंच सकता है. और केवल सहकार क्षेत्र ही समाज के आखरी व्यक्ति को मजबूती दे सकता है यह साबित हुआ है.