Published On : Thu, May 28th, 2020

गोंदियाः ससुराल में दामाद का कत्ल

२० घंटे घर में छिपाए रखी लाश, राज बेपर्दा

गोंदिया: ससुराल वाले दामाद के हाथ में रक्षा सूत्र बांधकर उसके लंबी आयु की कामना करते हैं लेकिन गोंदिया जिले के तिरोड़ा तहसील के ग्राम मुंडीकोटा में घर जमाई बनकर रह रहे अनिल का उसकी पत्नी , साले और सास- ससुर ने मिलकर रस्सी से गला घोंट काम तमाम कर दिया।

अनिल का मर्डर ससुराल की चारदीवारी के भीतर हुआ आरोपियों ने शव करीब 20 घंटे घर में ही छिपा कर रखा ताकि लाश को ठिकाने लगाया जा सके लेकिन इस सनसनीखेज हत्या के रहस्य की जानकारी पड़ोस में रहने वाले एक शख्स ने पुलिस को दे दी और राज़ बेपर्दा हो गया।

जमाई की हत्या के मामले में तिरोड़ा पुलिस ने उसकी पत्नी , साले , सास-ससुर पर धारा 302 , 34 का मामला दर्ज करते एक आरोपी को गिरफ्तार किया है जबकि तीन फरार हैं।

पत्नी पर करता था चरित्र संदेह, ४ ने मिलकर गला घोटा

यह घटना तिरोड़ा थाने से 14 किलोमीटर दूर ग्राम मुंडीकोटा में 25 मई रात 23:30 बजे घटी। मृतक का नाम अनिल छड़कीलाल शेंडे ( उम्र-30 ) है जो मूलत: कुड़वा के गोंडीटोला का निवासी है तथा शादी के बाद से ही पिछले 7 वर्षों से अपनी ससुराल मुंडीकोटा में घर जमाई बनकर रह रहा था।

अनिल को पत्नी पर अवैध संबंध होने का संदेह था जिसके कारण उसकी पत्नी और उसमें अक्सर झगड़ा होता था।

दरअसल अनिल की शराबखोरी और चरित्र संदेह के चलते रोज के फसाद और मारपीट से तंग आकर पत्नी और उसके परिजनों ने भयावह कदम उठाया तथा घटना की रात घर में कपड़े सुखाने के लिए इस्तेमाल होने वाली पीले रंग की रस्सी से अनिल का गला तब तक दबाए रखा जब तक उसके प्राण नहीं छूट गए।

घर की चारदीवारी में हुई हत्या का राज, राज ही रह जाता लेकिन वह बेपर्दा हो गया।

घटनास्थल को तिरोड़ा उपविभागीय पोलीस अधिकारी नितिन यादव तथा थाना प्रभारी सचिन ढ़ोके ने भेंट दी तथा लाश का स्पाट पंचनामा तैयार करने के बाद उसे शवविच्छेदन हेतु अस्पताल भेजा।

अस्पताल भेजे गए शव की पोस्टमार्टम रिपोर्ट में भी मौत की वजह गला घोंटना बताया गया है।

इस मर्डर केस की जांच कर रहे थाना प्रभारी सचिन ढ़ोके ने जानकारी देते बताया- परिवार पेंढ़ारी है तथा खानाबदोश की तरह इधर-उधर घूमकर भिक्षा मांगकर पेट गुजारा करता है मृतक की पत्नी भी भिक्षा मांगने जाती थी जिस पर अनिल चरित्र संदेह व्यक्त करता था।

बहरहाल मृतक के छोटे भाई फरियादी-अमित छड़कीलाल शेंडे की शिकायत पर मामला दर्ज किया गया है, एक आरोपी की गिरफ्तारी हो चुकी है अन्य की खोजबीन जारी है।

गौरतलब है कि जिस अनिल नाम के शख्स का कत्ल हुआ है उसे पांच छोटे बच्चे हैं पिता की मौत और मां की जेल चले जाने के बाद अब बच्चों का भविष्य अंधकारमय होता नजर आता है।

रवि आर्य