Published On : Mon, Apr 12th, 2021

पूरे विश्व में सिंधी समाज ने रविवार को मनाया दाल पकवान दिवस

दाल पकवान सिंधी व्यंजनों का सरताज– मोटवानी


नागपुर,विश्व सिंधी सेवा संगम महाराष्ट्र अध्यक्ष प्रताप मोटवानी ने बताया कि सिंधी व्यंजनों को बढ़ावा देने और समाज मे नई पीढ़ी को व्यंजनों के प्रति जागरूकता बनी रहे पूरे विश्व मे रविवार 11 अप्रैल को पूरे देश विदेश में दाल पकवान दिन बेहद हर्षोल्लास से मनाया गया। महाराष्ट्र में प्रत्येक सिंधी परिवार ने नाश्ते में दाल पकवान खाये और अपने आस पड़ोस दोस्तो रिश्तेदारो को भी खिलाकर खुश किया।। मोटवानी ने बताया दाल पकवान सिंधी व्यंजनों का सरताज है।।समाज की युवा पीढ़ी ने रविवार को चाइनीज व्यजनों की बजाय जब दाल पकवान खाये तो वे खुशी से उसके लाजवाब स्वाद से बेहद प्रभावित हुए।।उन्होंने प्रण किया कि अब वे सिंधी व्यजनों का ज्यादा उपयोग करेंगे।।मोटवानी ने बताया कि देश के प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने अपने भाषणों में सिंधी व्यंजनों की बेहद तारीफ की सिंधी कडी चावल, सिंधी पापड़ तो पूरे विश्व में सभी समाज में बेहद ही चाव से खाया जाता है। नागपुर में जरिफ़टका में

घुम्मण मल की दुकान में सबेरे से ही दाल पकवान खाने वालों की भीड़ लग जाती है। शहर में अनेक स्थानों पर यह मिलता है।मोटवानी ने कहा कि सिंधी संस्कृति सभी संस्कृतियों से बेहद प्राचीन संस्कृति है।लिहाजा सिंधी भाषा ,साहित्य ,संस्कृति व लोक कलाओं ,और तीज त्योंहारों को बचाने की बेहद जरूरत है।इसे विडंबना नही तो और क्या कहेंगे की युवा पीढ़ी अपने घरों में सिंधी भाषा का उपयोग नही कर रही है।

सिन्धियत नही बची तो समाज का अस्तित्व समाप्त हो जाएगा। इसीलिए सिन्धियत को बचाने के लिए विश्व सिंधी सेवा संगम द्वारा देश विदेश में पुरुषों महिलाओं और युवाओ को जोड़ सिन्धियत का भरपूर प्रचार प्रसार कर रहा है।।सिंधी समाज के सभी त्योंहार, धूमधाम से मनाने, अनेक सिंधी प्रतियोगिताये, सिंधी बोली घर घर मे सीखने, सिंधी सांस्कृतिक कार्यक्रम कर भरपूर प्रयास कर रहा है और विशेषकर कोरोना काल मे सिन्धियत का जबरदस्त प्रचार विश्व सिंधी सेवा संगम ने किया है।।मोटवानी ने बताया रविवार दाल पकवान दिवस के उपलक्ष्य में उन्होंने एक प्रतियोगिता रखी जिसमे सिंधी परिवारों को दाल पकवान के 3 फोटो भेजने और बेस्ट आकर्षण फ़ोटो को अनेक पुरस्कार राशि की घोषणा की , और सर्टिफिकेट भी देने की घोषणा की उन्हें पूरे देश विदेश से 100 से भी ज्यादा सिंधी बहिनो के फोटो प्राप्त हुए जो रिकॉर्ड है।

नागपुर टीम महिला महासचिव पूजा मोरयानी पूर्व नागपुर महिला टीम अध्यक्ष श्रीमती अर्चना छाबरिया, वरिष्ठ उपाध्यक्ष हितिशा मुलतानी भावना दयानी, मीत चावला, कंचन और कोमल चंदवानी ने इस अवसर पर बेहतरीन वीडियो बना कर प्रभावित किया।मोटवानी ने कहा कि समाज मे जागरूकता लाने के लिए उनकी पूरी टीम उन्हें बेहद साथ देकर ऐतिहासिक कार्य कर रही है।।उन सभी टीम और जिन्होंने समाज के कार्य करने में बेहतर साथ दिया है उन्हें विश्व सिंधी सेवा संगम महाराष्ट्र टीम की तरफ से शीघ्र ही प्रोग्राम में स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया जाएगा।।