Published On : Sat, Dec 1st, 2018

सम्पत्ति कर वसूली में लापरवाही पर वार्ड अधिकारियों को कारण बताओ नोटिस

स्थाई समिति सभापति विक्की कुकरेजा ने दी जानकारी

नागपुर: मनपा स्थाई समिति सभापति कुकरेजा ने बताया कि नवंबर माह तक सम्पत्ति कर विभाग को २०० करोड़ का सम्पत्ति कर वसूली का टारगेट था,लेकिन उन्होंने मात्र ११५ करोड़ की ही वसूली की। इसलिए उक्त लापरवाही के लिए उन्होंने सभी १० ज़ोन के वार्ड अधिकारियों को कारण बताओ नोटिस जारी किया। अगले समीक्षा बैठक ने दिए गए निर्देशों का पालन नहीं किया गया तो सम्पत्ति कर विभाग प्रमुख को भी नोटिस दी जा सकती है।

विगत दिनों ५५५००० संपत्तियों का सर्वे हुए,४९३००० संपत्तियों को अपलोड किया गया।२१ दिनों का आब्जेक्शन कलावाधी समाप्त हो चुका है। ४८९००० संपत्तियों का डाटा संबंधित ज़ोन को भेजा गया और ४३०००० संपत्तियों का वितरण शुरू हो चुका है। कुल ७२२ करोड़ का डिमांड जारी किया गया। जिसमें से ३२० करोड़ बकाया सम्पत्ति कर है और वर्तमान आर्थिक वर्ष का ४०२ करोड़ सम्पत्ति कर है।

कुकरेजा ने बताया कि आगामी सोमवार को मंगलवारी ज़ोन में पालक मंत्री का जनसंवाद कार्यक्रम है,जो दोपहर २ बजे से शाम ६ बजे तक जारी रहेंगी। इसके लिए २७१ शिकायते प्राप्त हुई। अधिकांश शिकायते स्वास्थ्य और मनपा से जुड़ी है। जनसंवाद नियमित होना चाहिए,इसके लिए गर अधिक खर्च की गई होंगी तो उनकी भविष्य में कटौती की जाएंगी।

कुकरेजा ने जानकारी दी कि सोमवार को जरीपटक में पट्टे वितरित किया जाएगा। अबतक ३८ लोगो को वितरित किया जा चुका है,सोमवार की शाम मुख्यमंत्री के हस्ते ९७ सिंधी समाज के लाभार्थियों को पट्टे वितरित किया जाएगा। ३५०० सिंधी समाज के नागरिकों ने नागरिकता के लिए आवेदन किया है।जिस परिवार में किसी एक को नागरिकता मिल चुकी है,उसके बच्चो की नागरिकता आसानी से मिल जाएंगी।