Published On : Sat, Dec 1st, 2018

वोटों के ध्रुवीकरण के लिए संघ ने चुनाव के समय उठाया राम मंदिर का मुद्दा – खड़गे

नागपुर : राम मंदिर को लेकर कांग्रेस पार्टी ने फिर एक बार न्यायालय में मामला शुरू होने की दलील देते हुए अपना रुख प्रदर्शित नहीं किया है। लोकसभा में नेता प्रतिपक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहाँ कि मामला अदालत में शुरू है इसलिए वह इस पर कुछ नहीं कहेगें। हालाँकि उन्होंने संघ के राम मंदिर आंदोलन पर बात रहीं और कहाँ की देश में जल्द ही चुनाव होने वाले है इसलिए यह बात कोई नई नहीं है। संघ राम मंदिर के मुद्दे को उठाकर बीजेपी की मदत करना चाहता है यह बात सर्वविदित है। शनिवार से ही राम मंदिर के लिए संघ की संकल्प यात्रा की शुरुवात हुई।

इस पर खड़गे ने कहाँ कि चुनाव से पहले ऐसी गतिविधिया करना संघ का काम है। इस मुद्दे को उठाकर संघ वोटो का ध्रुवीकरण करना चाहता है। ख़ुद को किसी विचारधारा से अलग और सांस्कृतिक संगठन कहने वाले संघ यह काम सिर्फ बीजेपी को चुनावी फ़ायदे के लिए कर रहा है। खड़गे शनिवार को नागपुर में क्रिश्चन कॉडीनेशन कमेटी द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम में भाग लेने नागपुर पहुँचे थे। इस कार्यक्रम का आयोजन पार्टी के ही नेता विजय बारसे ने ही किया था।


जिसमे प्रदेशाध्यक्ष अशोक चव्हाण और सह प्रभारी आशीष दुआ के साथ कांग्रेस पार्टी के ही नेता शामिल हुए। समुदाय को सम्बोधित करते हुए खड़गे ने कहाँ कि कांग्रेस पार्टी ने देश में धर्मनिरपेक्ष मूल्यों को स्थापित करने का काम किया है। वर्तमान समय में देश को विभाजित करने का काम हो रहा है। ऐसे माहौल में जरुरी है की सभी धर्म संप्रदाय के लोग और समाज संविधान की रक्षा के लिए एकजुट हो इससे ही लोगो के अधिकारों का बचाव होगा।

हिंदू धर्म सभी के लिए है लेकिन हिंदुत्व की जो संकल्पना प्रदर्शित की जा रही है। वह खतरनाक है इससे देश में तनाव निर्माण हो रहा है और लोगो को बाँटा जा रहा है। देश में अल्पसंख्यकों के उपर लगातार हमले हो रहे है। कांग्रेस का देश की आजादी में अमूल्य योगदान रहा आजादी के बाद देश की धर्मनिरपेक्षता को बरक़रार रखने का काम कांग्रेस पार्टी ने ही किया है।

इसी कार्यक्रम में बोलते हुए अशोक चव्हाण ने कहाँ कि कांग्रेस ने देश में शांति रखने का हमेशा प्रयास किया। क्रिश्चन समुदाय देश का अंग है। इस समाज ने शिक्षा और स्वास्थ्य के लिए योगदान दिया है। समाज के पॉल रामा स्वामी,जे सी कामत,और एनकेपी साल्वे जैसे लोगो ने देश की सेवा की है। जिसे भुलाया नहीं जा सकता। देश में जो माहौल है वह बेहद खतरनाक है। अल्पंसख्यकों पर मॉबलिंचिंग और अटैक की घटनाएं होना अच्छे संकेत नहीं देती। कांग्रेस ने समाज को जोड़ने का काम किया है। जो लोग कांग्रेस पर सवाल उठाते है उन्हें खुद के गिरेबान में देखना चाहिए कि उन्होंने देश के लिए आजादी के लिए क्या किया है।

इस कार्यक्रम में शहराध्यक्ष विकास ठाकरे,पूर्व सांसद गेव आवारी,अनीस अहमद,अनिल थॉमस,आशीष देशमुख,अभिजीत वंजारी शहर कांग्रेस के सभी प्रमुख नेता उपस्थित थे।