| | Contact: 8407908145 |
    Published On : Tue, Dec 18th, 2018

    प्रभाग ११: विकास की राह ताक रही शिवकृष्ण धाम बस्ती

    राजनैतिक द्वन्द व प्रशासकीय निष्क्रियता से शहरी सुविधाओं से महरूम है सैकड़ों नागरिक

    नागपुर: नागपुर सुधार प्रन्यास के अधीन वॉक्स कूलर के ठीक पीछे ५०० से अधिक परिवार रहते हैं. इस बस्ती में शहरी सुविधा के नाम पर सार्वजानिक नल व शौचालय है. इसके अलावा इस बस्ती में कोई भी शहरी सुविधा नहीं है. जबकि केंद्र और राज्य सरकार आए दिन जनहितार्थ नई-नई घोषणाएं करते रहते हैं. सुविधा देने के नाम पर नासुप्र और मनपा एक-दूसरे पर सिर्फ उंगलिया उठाकर अपना पल्ला झाड़ रहे हैं. इस अनाथ बस्ती के नागरिकों ने एक बार पुनः संविधान के चौथे स्तंभ के माध्यम से नासुप्र व मनपा प्रशासन का ध्यानकर्षण करवाकर बस्ती के नागरिकों के उत्थान की गुहार लगाई है.

    उक्त बस्ती यह पहले प्रभाग १ अंतर्गत थी, लेकिन पिछले चुनाव में प्रभाग ११ में शामिल कर दिया गया. यह बस्ती मनपा हद्द में जरूर हैं लेकिन विकास करने के मामले में नासुप्र के अधीनस्त इसे रखा गया है. बस्ती में ३८० घर हैं जिसमें लगभग २००० से अधिक नागरिक रहते हैं. इस बस्ती के आसपास ५०० से अधिक अधिकृत निजी घर,मकान,फ्लैट स्कीमें हैं.

    मुख्य मार्ग के जर्जर हाल

    उक्त सम्पूर्ण क्षेत्र के बीचोबीच एक मुख्य मार्ग गुजर रही है जब नितिन राऊत अल्पकालीन पालकमंत्री थे, तब उनके निर्देश पर नासुप्र ने उबर-खाबर मार्ग का डामरीकरण किया था. उसके बाद लगभग साढ़े चार साल गुजर गए, किसी ने पलट कर नहीं देखा. इस मार्ग के डामरीकरण की मांग की गई है.

    अस्वच्छता से लबरेज है बस्ती

    बस्ती के वोट फिर राजनैतिक हो या फिर मनपा को स्वच्छ भारत अभियान में ग्रेडेशन का मसला हो, सभी को चाहिए. लेकिन नियमित साफ़-सफाई मामले में मनपा स्वास्थ्य विभाग पूर्णतः असफल रही,क्यूंकि मंगलवारी जोन अंतर्गत क्षेत्र आता हैं,यह ज़ोन का स्वास्थ्य विभाग और कनक सबसे निष्क्रिय है.

    जमा पानी,गन्दगी से ओत-प्रोत परिसर,गन्दगी में खेलते जानवर-बच्चे,चेम्बर बादहाल,मुख्य नाला में जमा गंदगी नए नए बीमारियों को पनाह दे रहे.इस ओर किसी जनप्रतिनिधि का ध्यान नहीं.

    बस्ती में सैकड़ों नन्हें और बड़े बच्चे हैं. उनके मनोरंजन और उनके सुविधा हेतु ग्रीन जिम की सख्त आवश्यकता है. जिसे लगाने के लिए प्रभाग ११ के नगरसेवक संदीप जाधव और मंगलवारी ज़ोन सभापति संगीता गिरे से मांग की गई. बस्ती के नागरिकों की मांग है कि विगत माह पालकमंत्री ने ग्रीन जिम उनके कोटे से सम्पूर्ण शहर में लगाने की घोषणा की थी, इसी घोषणा के तहत उक्त जनप्रतिनिधियों से ग्रीन जिम हेतु पहल की अपील की गई.

    उल्लेखनीय यह है कि इस सम्पूर्ण बस्ती को मनपा ने २० लाख से अधिक का संपत्ति कर का डिमांड भेजा है. जिसे सकारात्मक रूप से लेते हुए बस्ती के नागरिक भरते जा रहे हैं. बावजूद इसके बस्ती का कोई वाली नहीं, इसलिए बस्ती के नागरिकों से चौथे स्तंभ के जरिए प्रशासन से गुहार लगाई है.

    Trending In Nagpur
    Stay Updated : Download Our App
    Mo. 8407908145