Published On : Mon, Jul 18th, 2016

होल्कर आश्रम शाला के सचिव ने न्यूज चैनल के पत्रकारों, कैमरामैन को पीटा!

सचिव ने लगाया बगैर इजाजत शाला प्रांगण एवं कक्षाओं में घुसपैठ का आरोप
आश्रम शाला में व्याप्त धांधली की छानबीन करने पहुंचे थे मीडिया कर्मी

journalist attacked
नागपुर:
 नागपुर में हिंगणा तालुका के उखली गांव में स्थित अहिल्या देवी होल्कर अनुदानित आदिवासी आश्रम शाला के सचिव श्रीकृष्णा रामदास माटे एवं उनके बेटे मुकेश पर न्यूज चैनलों के पत्रकारों एवं कैमरामैन के साथ मारपीट करने का आरोप लगाया गया है। आदिवासी विभाग द्वारा संचालित इस आश्रम शाला में सोमवार को लोकमत आईबीएन एवं महाराष्ट्र-1 के पत्रकार एवं कैमरामैन वहां व्याप्त धांधलियां की छानबीन करने पहुंचे थे, जहां माटे ने उनके साथ यह बदसलूकी की। हालांकि माटे ने उल्टा आरोप लगाया है कि संबंधित पत्रकार एवं कैमरामैन बिना इजाजत परिसर एवं कक्षाओं में घुस आए थे। इस संबंध में पत्रकारों और सचिव दोनों ने ही हिंगणा पुलिस थाने में शिकायत दर्ज कराई है।

सूत्रों ने बताया कि आश्रमशाला के सचिव माटे ने कथित रूप से धांधली करके आदिवासी विभाग के लाखों रुपए की हेरा फेरी की है, साथ ही कक्षाओं में बच्चों की गलत संख्या प्रस्तुत करके भी धोखाधड़ी की है।

गौरतलब है कि महाराष्ट्र-1 न्यूज चैनल के ब्यूरो चीफ गजानन उमाठे एवं कैमरामैन सौरभ होले और लोकमत-आईबीएन की रिपोर्टर सुरभि शिरपुरकर एवं कैमरामैन प्रशांत मोहिते आदिवासी विभाग की इस आश्रम शाला में आरोपों की सत्यता जांचने पहुंचे थे। इस बात से गुस्साए सचिव माटे और उनके पुत्र मुकेश ने उनके साथ मारपीट शुरू कर दी। दोनों ने कथित तौर पर पत्रकारों के वाहनों को भी आग लगाने की कोशिश की।

attked
नागपुर टुडे
से बात करते हुए अहिल्या देवी होल्कर अनुदानित आदिवासी आश्रम शाला के सचिव श्रीकृष्णा माटे ने कहा कि संंबधित मीडियाकर्मियों ने आश्रम शाला परिसर एवं कक्षाओं में प्रवेश लेने से पहले किसी से कोई अनुमति नहीं ली थी। माटे ने कहा कि उन्होंने पत्रकारों से निवेदन किया कि आश्रम शाला में छोटे आदिवासी विद्यार्थी हैं और इसलिए उन्हें इसके लिए उचित अनुमति लेनी होगी। उन्होंने आरोप लगाया कि जब उन्होंने मीडियाकर्मियों से यह जानना चाहा कि वे किसकी इजाजत से परिसर में घुसकर वीडियो शूटिंग कर रहे हैं तो उन्होंने जवाब दिया कि उन्हें कहीं भी जाकर वीडियो रिकॉर्र्डिंग करने के लिए किसी से इजाजत लेने की जरूरत नहीं है।
हिंगणा पुलिस फिलहाल मामले की जांच कर रही है।

हिंगणा पुलिस फिलहाल मामले की जांच कर रही है।

Pradip Maitraमीडियकर्मियों पर हमला करने वालो पर हो सख्त कार्यवाही – प्रदीप मैत्र
नागपुर जिले में मीडिया पर सोमवार को हुए हमले पर पत्रकारों का गुस्सा फिर एक बार बाहार आया है। राज्य में आए दिन पत्रकारों पर हमला होना आम बात है। इस मामले पर टिळक पत्रकार भवन ट्रस्ट ने तीखी प्रतिकिया देते हुए आरोपी संस्था चालक पर सख्त कार्यवाही किये जाने की मांग की है। ट्रस्ट अध्यक्ष प्रदीप मैत्र के अनुसार अब पत्रकारों पर हमला बर्दाश्त नहीं किया जा सकता। राज्य में पत्रकारों से संरक्षण के लिए अलग कानून के अलावा कोई पर्याय नहीं बचा है। इस मामले के दोषियों पर मौजूदा कानून के हिसाब से कार्यवाही हो। इस संबंध में पत्रकार भवन ट्रस्ट सरकार को अपनी बात रखते हुए निवेदन देगा।