Published On : Mon, Nov 3rd, 2014

वर्धा : 9000 रिश्वत लेते सरपंच गिरफ़्तार


Bribe
वर्धा।
ज़िले के हिंगणघाट तालुका के मौजा वालधुर में सीमेंट रोड का निर्माण कार्य एक ठेकेदार द्वारा किया गया. उसका पूर्ण भुगतान 2,0,4000/- के चेक पर गांव के सरपंच जाया दुर्योधन बालबुद्धे के हस्ताक्षर की आवश्यकता थी. किन्तु सरपंच ने 9 हज़ार की रिश्वत मांगी. ठेकेदार ने उसकी शिकायत एसीबी से कर दी 3 नवम्बर को सरपंच के घर पर रिश्वत की रकम देना निश्चित किया गया था, जहाँ एसीबी के अधिकारियों ने जाल बिछाकर  रिश्वत लेते धरदबोचा. इस कार्रवाई पुलिस अधीक्षक प्रकाश जाधव, अप्पर पुलिस अधीक्षक अनिल लोखंडे, पुलिस निरीक्षक सारीन दुर्गे, दिनेश पराशर, संजय खल्लरकर, रागिनी हिवाले शामिल थे.

250 रु. माँगा तलाठी, पकड़ाया

वहीं दूसरी ओर समुद्रपुर तालुका के मौजा वाशी में किसान को ओला पीड़ित होने का प्रमाण पत्र तथा नक्शा  आवश्यकता पर तलाठी दत्त वाढोरे ने किसान से 300 रु. की मांग की थी. किसान ने उसकी शिकायत एसीबी से कर दी. जहाँ अधिकारीयों ने तलाठी को जाल बिछा कर पकड़ लिया. भादंवि 1988 के तहत गिरड थाने में मामला दर्ज किया गया है. यह कार्यवाही पुलिस अधीक्षक प्रकाश जाधव, अप्पर पुलिस अधीक्षक यशवंत मतकर, उपाधीक्षक अनिल लोखंडे, निरीक्षक प्रदीप चौगांवकर, मनीष घोड़े, प्रदीप देशमुख, प्रदीप कदम ने किया. इसके अलावा यदि किसी से रिश्वत की मांग की जाती है तो वे एसीबी के टोल फ्री न. 1064 पर सम्पर्क कर सकते हैं. यहाँ जारी विज्ञप्ति में यह जानकारी दी गई है.