Published On : Mon, Nov 11th, 2019

नियम तीन सवारी बिठाने का, लेकिन 5 से ज्यादा बिठाई जा रही है सवारियां

लोगों की जान को डाल रहे खतरे में

नागपुर– नागपुर शहर में कुछ वर्ष पहले मीटर से ऑटो चलाने और तीन सवारियों से ज्यादा सवारियों को बिठाने पर कार्रवाई की जाती थी. यह कार्रवाई आरटीओ की ओर से की जाती थी. लेकिन कुछ महीनो से आरटीओ विभाग की ओर से तीन सवारियों की कार्रवाई मंद पड़ गई है.

इसके मंद पड़ने की वजह से शहर के किसी भी ऑटो में आप देखिये, कम से कम 5 से ज्यादा सवारियां बिठाई जा रही है और लोगों की जान खतरे में डालने का काम ऑटोचालकों की ओर से किया जा रहा है. आरटीओ की लापरवाही की वजह से शहर में ऑटोचालक नियमों की धज्जियां उड़ा रहे है. पहले आरटीओ की ओर ड्राइव लेकर इन ऑटोचालकों पर कार्रवाई की जाती थी. जिसके कारण इनमे ट्रैफिक नियमों को लेकर डर था.

लेकिन अब ऐसा दिखाई ही नहीं दे रहा है. शहर के किसी भी ऑटो में आपको तीन सवारियां नहीं दिखाई देगी. मीटर के अनुसार चले यह भी नियम बने थे. लेकिन वह नियम का कोई असर इन ऑटोचालकों पर नहीं हुआ है. गणेशपेठ, बर्डी, रविनगर, वाड़ी शहर के कई ऐसे परिसर है. जहांपर कार्रवाई कई वर्षो से दिखाई ही नहीं दी. हालांकि इस बारे में आरटीओ का कथन है की कार्रवाई की जा रही है और आगे भी कार्रवाई की जाएगी. लेकिन कार्रवाई कहा की गई और कितने वाहनों पर की गई. इसकी जानकारी आरटीओ के पास नहीं है.

कार्रवाई को लेकर शहर के उपप्रादेशिक परिवहन अधिकारी अतुल आदे ने बताया की कार्रवाई लगातार चल रही है. फिर ड्राइव शुरू की जाएगी. उन्होंने बताया की अक्टूबर महीने में कितने ऑटोचालकों पर कार्रवाई की गई है यह देखना होगा. हर महीने एक ही चीज नहीं कर सकते और भी इशू रहते है.

मीटर को लेकर उन्होंने कहा मीटर का रेट फायनलाइज़्ड करना है. कोर्ट के अनुसार एक कमेटी बनाई थी. रेट कैसे फाइनल करना वह कमेटी निर्णय लेगी. डीजल पेट्रोल के रेट बढ़ने से नए रेट डिसाइड होंगे. उन्होंने कहा की ज्यादा सवारियों को लेकर ड्राइव शुरू की जाएगी.