Published On : Mon, Jan 13th, 2020

ठंड के कारण नौ बजे से स्कुल शुरू करें शिक्षा विभाग: आरटीई एक्शन कमिटी

नागपुर- आशावरी कॉन्वेंट अयोध्या नगर स्थित स्कुल में छात्रा की ठंड लगने से मृत्यु हो गई। इस दुखद घटना के लिए आरटीई एक्शन कमिटी के चेयरमैन मो .शाहिद शरीफ़ ने संवेदना की हैंऔर सरकार से उन्होंने माँग की है कि शिक्षा विभाग सभी स्कूलों का समय 9 बजे से 2 बजे तक करें, क्योंकि सूरज 6: 45 मिनट मैं निकल रहा है और बच्चों को 7 .15 बजे से शालाओं में जाने के लिए तैयार होना पड़ता है और स्कूलों में खुले मैदान में एसेंबली के लिए वक़्त बिताना होता है और उस समय शीतलहर के कारण बच्चे निमोनिया और सर्दी का शिकार हो रहे हैं। कई स्कूल अपने ड्रेस के चक्कर में बच्चों के टोपी मंकी कैप जैकेट उतरकर अपने पास रख लेते हैं।

स्कूलों द्वारा जारी किये हुए गरम कपड़े भी ऐसी सर्दी में काम नहीं आ रहे है अन्य राज्यों की बात करें तो वहाँ भी ज़्यादा सर्दी की वजह से स्कूलों को छुट्टी दी जाती है और शासन निर्णय के अनुसार नौ पीरियड बच्चों को पढ़ाना हैं और एक पीरियड पैतीस मिनट का होता है। यदि पाँच मिनट भी एक पीरियड में से कम किया जाए और एसेम्बली ग्राउंड की बजाए क्लास में ली जाए तो पाठ्यक्रम मे कोई असर नहीं पड़ेगा और बच्चों पर अतिरिक्त प्रभाव भी नहीं पड़ेगा। इस संदर्भ में शिक्षाधिकारी तत्काल आदेश जारी करे अन्यथा कोई भी विद्यार्थी मरता है तो उसकी ज़िम्मेदारी शिक्षाधिकारी की होगी।