| | Contact: 8407908145 |
    Published On : Mon, Sep 10th, 2018

    किंग कोबरा आर्गेनाईजेशन यूथ फोर्स द्वारा जख्मी चमगादड़ को किया गया रेस्क्यू

    नागपुर: सामाजिक संगठन किंग कोबरा आर्गेनाईजेशन यूथ फोर्स द्वारा विलुप्त हो रहे फ्रूट बैट नामक गंभीर रूप से जख्मी चमगादड़ को रेस्क्यू कर उसे हॉस्पिटल में ले जाकर उसकी जान बचाई गई. फिलहाल चमगादड़ पशु निवारा केंद्र में हैं.

    मिली जानकारी के अनुसार रविवार को करीब दस बजे संगठन के नागपुर महाराष्ट्र के संस्थापक अध्यक्ष अरविंद कुमार रतूड़ी को फोन द्वारा इंडिया टीवी के न्यूज़ रिपोर्ट ने सूचना दी थी कि उनके घर के पास हेडगेवार स्मृति भवन महाल में विलुप्त हो रहे निसर्ग प्रहरी फ्रूट बैट नामक प्रजाति का चमगादड़ घायल अवस्था में पेड़ पर नायलाॅन मांझे से लटका है. चमगादड़ काफी जख्मी अवस्था में था. साथ ही इसके किसी जानवर के हमला करने की वजह से उसकी एक आँख भी फूट चुकी थी.

    चमगादड़ की सूचना मिलते ही रतूड़ी अपने कार्यकर्ता शुभम पराले के साथ उसे रेस्क्यू करने गए और उस घायल मूक प्राणी को तुरन्त ईलाज के लिए सुप्रसिद्ध प्राणी विशेषज्ञ डॉ. मयूर काँटे के क्लिनिक लेकर गए जहां डॉक्टर ने निरिक्षण करने पर बताया कि इसे पंतग उड़ाने वाले जानलेवा प्रतिबंधित नायलाॅन मांझे से गंभीर चोटें पहुंची हैं और इस पर घायल अवस्था में शायद किसी जानवर ने भी हमला किया है.

    जिस कारण इसकी एक आंख तक फूट गई है और इसके पंख और शरीर के कई महत्वपूर्ण अंगों को गंभीर क्षति हुई है. इसका प्राथमिक ईलाज करने के बाद ये पशु निवारा केन्द्र (शेल्टर) पर प्राणी प्रेमी स्वपनिल बोधाने की निगरानी में है और इसकी जान बचाने की हर संभव कोशिश संगठन और डॉक्टर की ओर से की जा रही है.

    Stay Updated : Download Our App
    Mo. 8407908145