Published On : Tue, Sep 30th, 2014

अमरावती : रतन डेंडुले का कांग्रेस पार्टी में प्रवेश


छोड़ा देशमुख का साथ

ratan Dundule
अमरावती।
सत्ता की लालच में सुनील देशमुख ने भाजपा में प्रवेश लेने का आरोप लगाकर पूर्व पार्षद व जनविकास कांग्रेस के नेता रतन डेंडुले ने सोमवार को सैकड़ों कार्यकर्ता व समर्थकों के साथ देशमुख का साथ छोड़कर दोबारा कांग्रेस पार्टी में शामिल हुए है. राजेंद्र शेखावत, विलास इंगोले, बबलू शेखावत की प्रमुख मौजूदगी में डेंडुले ने पत्र परिषद लेकर देशमुख पर आरोप लगाया कि, उन्होंने अपने कार्यकाल में जो भी निधि लाई, वह सब लोनिवि के माध्यम से खर्च हुई जबकि शेखावत ने जो भी निधि लाई है, वह मनपा के माध्यम से नागरिकों के कामों पर खर्च हुई है. कांग्रेस ने उन्हें टिकट नही दी, उनके साथ अन्याय हुआ, यह बात मानकर वह बुरे दिनों में उनके साथ रहे.

शेखावत ने कहां कि डेंडुले कांग्रेसी है. किसी कारण से वह कुछ समय के लिए दूर गए थे, किंतु वह दूबारा अपने घर लौट आये है. इसी तरह किसी कारणों से दूर गए कंग्रेसियों को भी दुबारा अपने घर कांग्रेस में लौटने का आवाहन उन्होंने किया है. इस समय वसंत साउरकर, हमीद शद्दा, संजय अकर्ते, जीतु ठाकुर, सादिक आयडिया उपस्थित थे. डेंडुले के कांग्रेस में प्रवेश करने से देशमुख महकामे को तगड़ा झटका लगा हैज़िस्से राजकीय क्षेत्र में भूचाल छा गया है. इस नई रणनीति से आने वाले दिनों में कई राजकीय समीकरण बदलने की संभावनाएं जतायी जा रही है.