Published On : Wed, Jun 10th, 2020

रामटेक वन विभाग की टीम ने जंगली सूअर के शिकारियों को किया गिरफ्तार

रामटेक– रामटेक परिसर में जंगली सूअर के शिकार के मामले में वन विभाग की ओर से 6 आरोपियों को गिरफ्तार किया है. मिली जानकारी के अनुसार 7 जून को आसोली -बिट के अंतर्गत जंगली सूअर के शिकार करने और उसके मांस की तस्करी होने की गुप्त जानकारी वन विभाग के अधिकारियों को मिली थी. इस आधार पर रामटेक के सहायक वनसंरक्षक संदीप गिरी और वन परिक्षेत्राधिकारी रविंद्र शेंडे के मार्गदर्शन में क्षेत्रसहायक डी. आर. अगडे, वनरक्षक स्वरूप केरवार, के. जी. नागपुरे, पी. जी. कारामोरे, व्ही. वाय. उगले ने आरोपियो को पकड़ने के लिए जाल बुना.

श्वानों की सहायता से करते थे शिकार
इसके बाद भांडेवाडी और शिवाड़ौली सड़क पर दोपहिया वाहन पर सवार सुनील रतिराम गोणे को रोककर उसकी तलाशी ली गई. उसके पास मौजूद 2 थैलियों में से तक़रीबन 30 किलो जंगली सूअर का मांस मिला. उससे अधिक पूछताछ करने पर उसने जानकारी दी की उसने यह मटन भंडारा जिले के हिवरा में रहनेवाले सुभाष भाऊराव महालगावे से 2 हजार रुपए में लिया है और उसको बेचने के लिए गाँव ले जा रहा है.

इसके बाद वन विभाग की टीम हिवरा में पहुंची और आरोपी सुभाष को हिरासत में लिया और उससे पूछताछ की. पूछताछ में उसने बताया की कुत्तो की सहायता से अड़ेगांव परिसर में शिकार किया गया था और कुल्हाड़ी और छुरी की सहायता से उसके टुकड़े किए थे.

इस शिकार मामले में सुशील मुलचंद महालगावे (27), मोरेश्वर गणपत मेश्राम (50), बळीराम शिवा भोयर (30), रोशन सतिराम चौधरी थे. घटनास्थल से शिकार के औजार जब्त किए गए है. सभी आरोपियों पर वन्यजीव कानून के अंतर्गत मामला दर्ज कर आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है.