Published On : Fri, Jan 16th, 2015

अकोला : ‘रेल आरक्षण टिकट’ के लिए अब टोकन सिस्टम

Token sysytem
अकोला।
अकोला रेलवे स्टेशन की नई पीआरएस यानी पैसेंजर रिजर्वेशन सिस्टम की नई इमारत में टोकन पद्धति शुरू करें और साइकिल स्टैंड को संचालित करने के लिए प्रायोगिक तौर पर पार्ट-टाईम पार्किंग ठेका दिया जाए. यह निर्देश मध्य रेल के महाप्रबंधक सुनील कुमार सूद ने भुसावल रेल मंडल प्रबंधक तथा स्थानीय रेल प्रशासन अधिकारियों को दिए. सूद गुरूवार को अकोला रेलवे स्टेशन का मुआयना करने यहां पहुंचे थे.

इस दौरान उन्होंने स्टेशन परिसर में नवनिर्मित इमारत में स्थानांतरित की गई रेल आरक्षण खिडकियों के कार्यालय पीआरएस का लोकार्पण किया. उन्होंने पीआरएस परिसर का मुआयना करने के बाद भुसावल रेल मंडल प्रबंधक कार्यालय तथा स्थानीय रेल अधिकारियों को बताया कि, पीआरएस परिसर में बैठने की पर्याप्त व्यवस्था है. जिसे देखते हुए यहां पुणे, नागपूर पैटर्न पर टोकन पद्धति शुरू करें. लगभग 13 माह से बगैर ठेकेदार के शुरू साइकिल स्टैंड के विषय को गंभीरता से लेते हुए उन्होंने भुसावल रेल मंडल प्रबंधक कार्यालय के अधिकारियों को बताया कि यदी उन्हें साल भर में कोई ठेकेदार नहीं मिला है. तो प्रायोगिक तौर पर साइकिल स्टैंड का ठेका ‘पार्ट टाइम’ के लिए दिया जाए, और प्रतिसाद मिलने पर भविष्य में उसे जारी रखने पर निर्णय लें. ट्रेनों में वाटरिंग की सुविधा उपलब्ध कराने की मांग की. सूद ने उन्हें भरोसा दिलाया कि, इन मांगों में से कुछ के लिए शीघ्र सर्वेक्षण कराया जाएगा. शेष मांगों पर वरिष्ठ स्तर पर चर्चा कर उसे अमल में लाने की कोशिश की जाएगी. इस अवसर पर डीआरएम महेशकुमार गुप्ता के अलावा विदर्भ चेम्बर ऑफ कामर्स के पूर्व अध्यक्ष अशोक डालमिया, वसंत बाछूका, ज्ञानप्रकाश खंडेलवाल, रमाकांत खंडेलवाल, अधि. एस.एस. ठाकूर आदि उपस्थित थे.

Token sysytem  (2)
महाप्रबंधक का दौरा

दोपहर 2:15 बजे : मध्य रेल के महाप्रबंधक सुनील कुमार सूद की विशेष निरीक्षण ट्रेन अकोला के प्लेटफार्म नंबर 1 पर पहुंची. उनके बोगी से बाहर आने के बाद स्टेशन अधीक्षक बी.पी. गूजर ने उनका स्वागत किया. दोपहर 2:20 बजे : महाप्रबंधक ने सेंट्रल रेलवे मजदूर संघ द्वारा आयोजित राजभाषा पुस्तक प्रदर्शनी का उद्घाटन किया.
दोपहर 2:30 बजे : महाप्रबंधक सूद ने सांसद संजय धोत्रे सहित विदर्भ चेम्बर ऑफ कॉमर्स के पदाधिकारियों के साथ हुई बैठक में विविध मुद्दों पर चर्चा की.
दोपहर 3:00 बजे : महाप्रबंधक ने स्टेशन परिसर के पीआरएस, आरपीएफ के डॉग यूनिट का मुआयना किया.
दोपहर 3:25 बजे : अपनी विशेष निरीक्षण ट्रेन में सवार हो गए.
दोपहर 3:35 बजे : मध्य रेल के महाप्रबंधक की विशेष निरीक्षण ट्रेन प्लेटफार्म नंबर 1 से रवाना हो गई.

विदर्भ चेम्बर का ज्ञापन
मध्य रेल के जनरल मैनेजर सुनीलकुमार सूद के अकोला रेल्वे स्टेशन पर निरीक्षण के लिए आने के कारण आज दोपहर विदर्भ चेम्बर आफ कामर्स एन्ड इंडस्ट्री का दल सांसद संजय धोत्रे के नेतृत्व में उनसे मिला. दल में विधायक रणधीर सावरकर, चेंबर के अध्यक्ष रमाकांत खंडेलवाल तथा सचिव श्रीकर सोमण, कैट के राष्ट्रीय सचिव अशोक डालमिया, डी.आर.यू.पी.सी. सदस्य बसंत बाचूका, ज्ञानप्रकाश खंडेलवाल, एड. सुभाषसिंग ठाकूर शामिल थे. दल ने सौंपे ज्ञापन में रेल्वे स्टेशन पर रैम्प की सुविधा उपलब्ध कराने, अकोला से होकर गुजरनेवाली अमरावती-मुंबई एक्सप्रेस, महाराष्ट्र एक्सप्रेस, नागपुर-पुणे एक्सप्रेस में कोचों की संख्या बढाने, प्लेट फार्म क्रमांक 2 पर यात्री शेड डालें. अकोट-अकोला के रेल पुल की मरम्मत करने, कार पार्किंग की क्षमता बढाना,प्लेट फार्म नंबर 3 पर वाटर फिल्टर की सुविधा उपलब्ध कराना, बारिश के दौरान स्टेशन परिसर में सामग्री को भीगने से बचाने के लिए व्यवस्था करना आदि मांगों का समावेश है.