Published On : Wed, Mar 28th, 2018

अट्रॉसिटी क़ानून को मज़बूत कर भविष्य में सख्ती से लागू करने का हो प्रावधान


नागपुर: नागपुर शहर एवं ग्रामीण कांग्रेस कमेटी अनुसूचित जाति विभाग द्वारा संविधान चौक पर आंदोलन कर अट्रॉसिटी क़ानून पर मानानिय उच्चन्यायालय द्वारा दिए निर्णय पर पुनः विचार करने का निवेदन ज़िल्हाधिकारी को दिया गया। साथ ही अट्रॉसिटी क़ानून को भविष्य में अधिक मज़बूत कर सख्ती से लागू करने का प्रावधान करने की मांग की गई. अट्रॉसिटी क़ानून को सक्त करने से ही देश से जातिवाद को समाप्त किया जा सकता है, ऐसा सम्बोधन अध्यक्ष विवेक निकोसे ने किया.

उन्होंने क़ानून में किए बदलाव को निरस्त ना करने पर सरकार के विरोध में तीव्र आंदोलन करने की चेतावनी दी. इस अवसर पर संजय मेश्राम भाऊराव कोकने, अनिल नगरारे, पंकज लोनारे, तक्षशिला वागधरे, सुनील जाधव, रामदास काम्बड़े, इंद्रजीत लोनारे, आलोक मून, कुणाल मेश्राम, संजय मेंढ़े, लव जनबंधु, प्रशांत उके, रोशन मेश्राम, अविनाश डेलीकर, अमजद पठान, ज्ञानेश्वर साव, सचिन सोमकुवर, हुमान चाकोले, रवि चौरे, विकास साखरे, आकाश नारनवरे, सिधार्थ बागडे, सुधीर पिल्लेवान, नितिन भैसारे, नरेश सहारे, प्रफुल पाटिल, सुमित पाटिल, मो ज़ाहिर, शेख़ चाँद, रोहित सातपुते, साहिल शेख़, कपिल लांजेवार, शुभम मोहोड़, शुद्धोधन कड़बे, राहुल गाजभिये, नितिन बनसोड आदि ग्रामीण एवं शहर अनुसूचित कांग्रेस के पदाधिकारी उपस्थित थे.