Published On : Wed, Mar 28th, 2018

शांतिनगर के बाद कलमना में भी श्वानों को जहर देकर मारा


नागपुर: रविवार को शांतिनगर में तीन श्वानों की बेरहमी से लोहे की रॉड से पीटपीटकर हत्या की घटना के बाद बुधवार को कलमना के म्हाडा कॉलोनी के पास करीब 7 श्वानों को जहर दिया गया है. साथ ही एक सुअर को भी जहर दिया गया है. जिसमें से चार श्वानों और सुअर की मौत हो गई है. जबकि एक श्वान के बच्चे को सेव स्पीचलेस आर्गेनाईजेशन की ओर से बचा लिया गया है. जबकि एक श्वान को पकड़ा नहीं जा सका है.

पशु प्रेमी संघटन ‘ सेव स्पीचलेस आर्गेनाईजेशन’ के सदस्यों ने घटनास्थल पर पहुंचकर पुलिस और मनपा को सूचना देकर गंभीर श्वान के बच्चे को हॉस्पिटल भिजवाया. ‘सेव स्पीचलेस आर्गेनाईजेशन’ की संस्थापक स्मिता मीरे की जानकारी के अनुसार सुबह 7 बजे के करीब उन्हें कलमना परिसर से फ़ोन पर मामले की जानकारी मिली थी. जिसके बाद वो घटनास्थल पर पहुंची. स्मिता के अनुसार श्वान मरे पड़े हुए थे. इनमें एक सूअर भी था.  इनमें से एक श्वान का बच्चा गंभीर हालत में था. जिसको पकड़ने की कोशिश की गयी. लेकिन उसे पकड़ा नहीं जा सका.

हालांकि छोटे बच्चे को रेस्क्यू कर हॉस्पिटल में इलाज के लिए लेकर जाया गया है. स्मिता ने बताया कि जहां श्वान मरे थे, वहां की एक पशु प्रेमी महिला मनप्रीत कौर ने फ़ोन किया था. उनके नाम से कलमना पुलिस स्टेशन में अज्ञात आरोपियों के खिलाफ शिकायत दर्ज की गई है. स्मिता ने श्वानों की मौत पर पुलिस द्वारा जांच कर आरोपियों को सजा देने की मांग की है.

इस बारे में कलमना पुलिस स्टेशन के पुलिस निरीक्षक खुशाल तिजारे ने जानकारी देते हुए बताया कि अज्ञात आरोपियों के खिलाफ पशु क्रूरता के तहत मामला दर्ज किया गया है. मृत श्वानों को पोस्टमॉर्टेम के लिए भेज दिया गया है. परिसर में छानबीन की जाएगी और नागरिकों से पूछताछ की जाएगी कि कौन इन श्वानों से चिढ़ता था और किसे इन श्वानों से समस्या थी. मामले की छानबीन चल रही है.