Published On : Thu, Nov 6th, 2014

कलमेश्‍वर : रिश्वतखोर प्रोबेशनरी पीएसआई एसीबी के जाल में


Narayak Dakewar bribe
कलमेश्‍वर (नागपुर)
। एसीबी ने कलमेश्‍वर थाने के एक प्रोबेशनरी पीएसआई को 30 हजार रुपए की घूस लेते हुए पकडा है. कामठी थाने के अधिकारी निवास में की गई इस कार्रवाई से ग्रामीण पुलिस में खलबली मच गई है. आरोपी पीएसआई राजेश नारायणराव डाकेवाड (25) है. राजेश मूलत: नांदेड. का निवासी है. नासिक की अधिकारी अकादमी में प्रशिक्षण पूर्ण होने के बाद उसे नागपुर ग्रामीण में तैनाती दी गई थी. वह कलमेश्‍वर थाने में कार्यरत था.

शिकायतकर्ता के भाई के खिलाफ कुछ दिन पहले चोरी का मामला दर्ज हुआ था. पुलिस हिरासत खत्म होने के बाद शिकायतकर्ता के भाई को न्यायिक हिरासत में जेल भेजा गया था. इस मामले की जांच डाकेवाड के पास थी. अदालत में जमानत का विरोध नहीं करने के बदले में डाकेवाड ने शिकायतकर्ता से 30 हजार रुपए मांगे. रुपए नहीं देने पर रिहाई में बाधा पैदा करने की चेतावनी दी. घूस देने की इच्छा नहीं होने से शिकायतकर्ता एसीबी के पास पहुंचा. उसकी शिकायत के आधार पर डाकेवाड को पकडने की योजना बनाई गई.

गुरुवार को मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस का कामठी के ड्रैगन पैलेस में कार्यक्रम था. इसके बंदोबस्त के लिए डाकेवाड को कामठी भेजा गया था. उसने शिकायतकर्ता को कामठी बुलाया. वहां पहुंचने पर कामठी थाना परिसर स्थित अधिकारी क्वार्टर में आने को कहा. वहां शिकायतकर्ता से रुपए लेते डाकेवाड को रंगेहाथ गिरफ्तार कर लिया गया.

उक्त कार्रवाई पुलिस उपायुक्त, पोलिस अधिक्षक प्रकाश जाधव, अपर पोलिस अधिक्षक यशवंत मतकर, एंटी करप्शन ब्युरो नागपुर के मार्गदर्शन में पोलिस उप अधिक्षक अनिल लोखंडे, वर्धा पोलिस निरीक्षक भारत क्षीरसागर, एसीबी नागपुर, पोलिस हवालदार दिलीप जाधव, संजय ठाकुर, पोलिस कोमल बिसेन, महिला पोलिस सिपाई कोमल गुजर ने की.