Published On : Fri, Apr 17th, 2020

Video : करो योग- भगाओ रोग -प्रफुल पटेल

वीडियो संदेश जारी कर बताए , फिटनेस के राज़

अपने पसंदीदा सेलिब्रिटी को तो सभी फॉलो करते हैं , उसकी फोटो पर कमेंट भी करते हैं उन्हें अक्सर विश भी करते हैं ।
अगर ऐसा हो कि सेलिब्रिटी आपको विश करें और योग तथा व्यायाम के जरिए आप अपने शरीर को किस तरह फिट रखकर कोरोना के संक्रमण से बच सकते हैं इसका विडियो संदेश जारी करते आइडिया दें , तो कैसा लगेगा ?

जी हां हमेशा फिट और तंदुरुस्त रहने वाले सांसद तथा राष्ट्रवादी के कद्दावर नेता प्रफुल्ल पटेल ने अपनी फिटनेस के राज गोंदिया- भंडारा जिले के नागरिकों और फैन्स के साथ शेयर करते हुए अपने मुंबई स्थित निवास स्थान के जिम में योग , प्राणायाम और व्यायाम करते हुए का वीडियो शेयर करते अपने इम्यून सिस्टम को किस तरह मजबूत किया जा सकता है और यह आपको कोरोना संक्रमण से बचाए रखने में किस प्रकार मदद कर सकता है यही वीडियो संदेश में शुक्रवार 17 अप्रैल को बताया है।

कोरोना वायरस धीरे-धीरे पैर पसार रहा है लेकिन इससे बचने के लिए आपके पास कई सारे विकल्प हैं और योग तथा नियमित व्यायाम के जरिए कोरोना वायरस से बचा जा सकता है।

अगर किसी व्यक्ति की इम्यूनिटी कमजोर होती है तो वह जल्दी बीमार हो जाता है । योग प्राणायाम और कसरत के जरिए इम्यून सिस्टम को मजबूत किया जा सकता है और यह आपको संक्रमण से बचाए रखने में मदद करेंगे।

3 आसन एक रामबाण उपाय है

अनुलोम विलोम प्राणायाम करने से श्वसन क्रिया बेहतर होती है और सामान्य रूप से होने वाली सर्दी खांसी और जुकाम तक नहीं होती है ।
मैट या दरी पर आसन लगाकर बैठ जाएं अब अपने बाएं हाथ के अंगूठे से , बांयी नाक के छिद्र को बंद करके , दांयी नाक के छिद्र से सांस लें।
अब दांयी नाक के छिद्र को अपनी एक उंगली से बंद करें और बांयी नाक के छिद्र को खोलकर इसके जरिए सांस छोड़ें ।

दूसरा भस्त्रिका प्राणायाम से भी आप संक्रमित होने से बच सकते हैं और इससे शरीर की कोशिकाएं स्वस्थ बनी रहती हैं साथ ही आपकी इम्यूनिटी भी मजबूत होगी। एक गहरी सांस लें , अब पेट पर जोर देते हुए सांस छोड़ें इस प्राणायाम को करीब 3 से 5 मिनट करें। तीसरा कपालभाति यह एक प्रचलित प्राणायाम है ,इस प्राणायाम को करने मैं भी सांस लेते हैं और छोड़ते हैं।

रोजाना 5 मिनट इस प्राणायाम को करने से आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता मजबूत होगी और न सिर्फ आप कोरोना संक्रमण में आने से बचेंगे बल्कि भविष्य में भी आप कई बीमारियों से बचे रहेंगे।

रवि आर्य