Published On : Tue, Apr 20th, 2021

LOCKDOWN से देश को बचाना है, इसे अंतिम विकल्प समझें राज्य, PM Modi का बड़ा संदेश

Advertisement

देश में कोरोना से बिगड़ते हालात के बीच पीएम मोदी आज रात 8:45 बजे देश को संबोधित किया. पीएम मोदी देश में कोरोना से बिगड़े हालात समेत अन्य मसलों पर बात की. पीएम मोदी ने कहा कि कोरोना की दूसरी लहर तूफान बनकर आ गई.पीएम मोदी ने सभी कोरोना योद्धाओं की सराहना की. उन्होंने कहा कि बीते दिनों में जो कदम उठाए गए हैं. उससे स्थिति को सुधारेंगे.

राज्य लॉकडाउन को अंतिम विकल्प समझें: पीएम
पीएम मोदी ने कहा कि देश में जागरूकता से लॉकडाउन से बचने में मदद मिलेगी. उन्होंने कहा कि देश को लॉकडाउन से बचाना है. राज्य सरकारें भी लॉकडाउन को अंतिम विकल्प समझें. पीएम मोदी ने बच्चों से आग्रह किया कि मेरे बाल मित्रों घर में ऐसा माहौल बनाइए कि बिना काम और बिना जरूरी कारण लोग अपने घरों से बाहर ना निकलें. देश को लॉकडाउन से बचाना है. आपकी जिद बहुत बड़ा परिणाम ला सकती है. पीएम मोदी ने कहा कि आज की स्थिति में हमें देश को लॉकडाउन से बचाना है। मैं राज्यों से भी अनुरोध करूंगा कि वो लॉकडाउन को अंतिम विकल्प के रूप में ही इस्तेमाल करें. लॉकडाउन से बचने की भरपूर कोशिश करनी है और माइक्रो कन्टेनमेंट जोन पर ही ध्यान केंद्रित करना है

Advertisement
Advertisement

ऑक्सीजन की डिमांड बढ़ी- पीएम मोदी
पीएम मोदी ने कहा कि देश में ऑक्सीजन की डिमांड बढ़ी है. हर जरूरतमंद को ऑक्सीजन पहुंचाने की कोशिश की जा रही है. राज्यों को ऑक्सीजन पहुंचाने का हर संभव प्रयास किया जा रहा है. पीएम मोदी ने कहा कि हमारे देश का फार्मा सेक्टर मजबूत है. हम दवाई कंपनियों से हर संभव मदद ले रहे हैं.

दुनिया में सबसे सस्ती वैक्सीन भारत में
पीएम मोदी ने कहा कि दुनिया की सबसे सस्ती वैक्सीन भारत में है. भारत में दो कंपनियों की वैक्सीन के साथ दुनिया का सबसे बड़ा टीकाकरण अभियान शुरू किया गया. दुनिया में सबसे तेजी से पहले दस करोड़ फिर 11 करोड़ फिर 12 करोड़ डोज दिए गए हैं. हमें इससे हौसला मिलता है कि देश की जनसंख्या के बड़े हिस्से को वैक्सीन लग चुकी है.

राज्यों को पीएम मोदी की नसीहत- श्रमिकों में भरोसा जगाएं
पीएम मोदी ने कहा कि राज्य प्रशासन श्रमिकों में भरोसा जताएं ताकि वह पलायन ना करें. पीएम मोदी ने कहा कि वैक्सीनेशन अभियान में तेजी लाई जा रही है. गरीबों को, श्रमिकों को भी वैक्सीन मिलेगी. इस दौरान उनका काम भी चलता रहेगा. राज्य प्रशासन देश के अलग- अलग राज्यों में श्रमिक मौजूद हैं. वो वहीं रहें पलायन ना करें.

युवाओं से पीएम की अपील
पीएम मोदी ने कहा कि मेरा युवा साथियों से अनुरोध है की वो अपनी सोसायटी में, मौहल्ले में, अपार्टमेंट्स में छोटी छोटी कमेटियाँ बनाकर COVID अनुशासन का पालन करवाने में मदद करें. हम ऐसा करेंगे तो सरकारों को न कंटेनमेंट ज़ोन बनाने की ज़रुरत पड़ेगी, न कर्फ़्यू लगाने की, न लॉकडाउन लगाने की. उन्होंने कहा कि रामनवमी मर्यादा पुरुषोत्तम राम का दिन है. इस दिन हम संकल्प लें कि कोरोना को लेकर जारी दिशानिर्देशों का पालन करेंगे.

दूसरी लहर तूफान बनकर आई- पीएम
पीएम मोदी ने अपने संबोधन के दौरान कोरोना के बढ़ते मामलों पर चिंता जाहिर की. उन्होंने कहा कि देश में कोरोना वायरस की लहर तूफान बनकर आई. उन्होंने कहा कि जो पीड़ा आप सह रहे हैं मुझे उसका एहसास है. पीएम मोदी ने कहा कि हम हौसले और तैयारियों से यह जंग जीतेंगे.

बता दें कि कोरोना की पहली लहर के दौरान देश में कोरोना के मामले इतनी अधिक संख्या में सामने नहीं आए थे. दूसरी लहर के दौरान देश में पिछले कुछ दिनों से लगातार कोरोना के दो लाख से ज्यादा मामले दर्ज किए जा रहे हैं. हालात ऐसे हैं कि देश के कई राज्यों के अस्पतालों में बेड्स की किल्लत है. कोरोना मरीजों को ऑक्सीजन की भी कमी का सामना करना पड़ रहा है. देश में कई ऐसी मौतें ऑक्सीजन की कमी से रिपोर्ट की गई हैं.

Advertisement

Advertisement
Advertisement
 

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement