Published On : Tue, Apr 27th, 2021

मनपा की लापरवाही से कुर्ला भाभा अस्पताल में ऑक्सीजन की टंकी रिक्त

मुंबई – कुर्ला भाभा अस्पताल की ऑक्सीजन की टंकी 6 महीने से तैयार है लेकिन लिक्विड ऑक्सीजन का स्टॉक जमा न होने से किया गया खर्च का कुछ लाभ नही हो रहा है। इससे यह ऑक्सीजन की टंकी इस्तेमाल न होने से बेकार पड़ने की शिकायत आरटीआई कार्यकर्ता अनिल गलगली ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे और महापालिका आयुक्त इक्बाल सिंह चहल जे पास की है।

गत वर्ष कोरोना बढ़ने से कुर्ला भाभा अस्पताल में ऑक्सीजन की टंकी बिठाने की प्रक्रिया शुरु की गई। इसे लेकर 12 जून 2020 को वैद्यकीय अधीक्षक के पास बैठक आयोजित की गई थी। 1 किलोलीटर की क्षमता की 2 मशीन बिठाई गई। दोनों मिलाकर 250 जंबो सिलेंडर की क्षमता तैयार होगी जो 15 दिनों तक चलेगी। गत सप्ताह में भाभा अस्पताल से 35 लोगों को अन्य स्थान पर स्थानांतरित करने की शर्मिंदगी उठाने पड़ी। ऑक्सीजन की व्यवस्था शुरु होती तो नागरिकों और डॉक्टरों को परेशानी का सामना नहीं करना पड़ता है। सबकुछ तैयार है तो ऑक्सीजन की टंकी कार्यान्वित क्यों नहीं हुई? यह सवाल अनिल गलगली का है।

विधा5 मंगेश कुडालकर ने सोमवार, 26 अप्रैल 2021 को इसी मामले को लेकर वैद्यकीय अधीक्षक डॉ उषा शर्मा से मुलाकात की। इस मौके पर अनिल गलगली, किरण दामले, आशिष पटवा, शाखाप्रमुख कमलाकर बने उपस्थित थे। ऑक्सीजन टंकी के कार्यान्वयन मनपा अधिकारी कृष्णा पेरिकर से चर्चा करने पर उन्होंने 5 दिनों में कमिशनिंग करने का निर्णय लिया गया।